Wednesday, December 11, 2019 05:20 PM

नमाज अता कर अमन की दुआ

चंबा में धूमधाम से मनाया ईद का त्योहार, मुस्लिम समुदाय के लोगों ने एक-दूसरे से गले मिलकर दी मुबारकबाद

चंबा -चंबा जिला में बकरीद का त्योहार सोमवार को धूमधाम से मनाया गया। बकरीद की सामूहिक नमाज चौगान-पांच में अता की। जामा मस्जिद के ईमाम मौलवी शरीफ  आलम ने ईद की सामूहिक नमाज अता करवाई। इस दौरान मुस्लिम समुदाय के लोगों ने देश की अखंडता व आपसी भाईचारे की सलामती की दुआ भी मांगी। तदोपरांत मुस्लिम समुदाय के लोगों ने एक- दूसरे के गले मिलकर बकरीद की खुशियां बांटी। सोमवार को बकरीद की सामूहिक नमाज अता करने के लिए मुस्लिम समुदाय के लोगों का चौगान-पांच में पहंुचने का सिलसिला सवेरे से ही आरंभ हो गया था। सवेरे ग्यारह बजे जामा मस्जिद के ईमाम ने सामूहिक नमाज अता करवाने के साथ-साथ बकरीद के महत्त्व पर प्रकाश भी डाला। इस मौके पर ईमाम शाह आलम व जिला अंजुमन इस्लामिया के प्रधान सैयद दिलदार अली शाह ने बताया कि हजरत इब्राहिम को दिव्य स्वप्न के माध्यम से अल्लाह ने उनकी परीक्षा लेने के लिए अपनी सबसे अधिक प्रिय वस्तु की कुर्बानी करने के लिए कहा था। जिस पर हरजत इब्राहिम ने इस दिन अपने बेटे इस्माईल के नाम कुर्बान कर दिया। अगले रोज चमत्कार के तौर हजरत इब्राहिम ने अपनी आंखों में पट्टी बांध कर जिस बेटे को खुदा के नाम पर कुर्बान किया था उसके स्थान पर एक मैढ़ा कुर्बाना हुआ था, जबकि उनका बेटा पास में खड़ा होकर मुस्करा रहा था। उन्होंने कहा कि हजरत इब्राहिम के द्वारा इस कार्य को अल्लाह के हुकम के अनुसार किया था उसकी याद में यह दिन बकरीद के रूप में मनाया जाता है। उधर, जिला के मुस्लिम बहुल्य क्षेत्र साहो, मसवाडी, गनेड, किहार, मनपनिहार, तेलका, पिछला डियूर, मंजीर, सुरंगानी व डलहौजी आदि क्षेत्रों में भी बकरीद का त्योहार बड़े धूमधाम से मनाया गया। इन स्थानों पर भी मुस्लिम समुदाय के लोगों ने ईद की सामूहिक नमाज अता करने की रस्म अदायगी के बाद एक- दूसरे के गले मिलकर खुशियां बांटीं।