Monday, September 23, 2019 01:45 AM

नयनादेवी स्कूल में शिक्षकों के पद खाली

नयना देवी - हिमाचल सरकार को बने हुए लगभग पौने दो वर्ष होने जा रहे हैं, लेकिन विख्यात तीर्थस्थल श्रीनयना देवी मंदिर न्यास द्वारा संचालित श्री शक्ति वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला व संस्कृत महाविद्यालय में रिक्त पड़े अध्यापक एवं प्राध्यापकों के पदों को अभी तक नहीं भर पाई। इसके फलस्वरूप नयना देवी के इस महाविद्यालय में शिक्षा ग्रहण कर रहे बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है। श्री शक्ति वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला में वर्तमान समय में एक दर्जन से ज्यादा अध्यापकों के पद रिक्त चल रहे हैं तथा अभी तक मंदिर प्रशासन इन पदों को भरने के लिए भी प्रयास नहीं कर पा रहा है। स्थानीय लोगों का कहना है कि लोगों को आस थी कि आचार सहिंता हटने के बाद मंदिर न्यास छात्रों के भविष्य से हो रहे खिलवाड़ पर जल्द अध्यापकों के रिक्त पड़े पदों को भरेगी, लेकिन अभी तक मंदिर न्यास ने इसके लिए कोई भी उचित कदम नहीं उठाया। न्यास के ढीले रवैये से अब अभिभावकों का चिंतित होना भी मजबूरी बन गया है तथा उनके बच्चों की लगातार बाधित हो रही पढ़ाई अब स्कूल प्रशासन के लिए भी चिंता का कारण बन गई है। उधर, विधायक राम लाल ठाकुर ने नयनादेवी स्कूल में रिक्त पड़े अध्यापकों पदों के लिए पूर्व विधायक को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि स्कूल में पूर्व विधायक राजनीति कर रहे हैं तथा बच्चों के भविष्य के साथ खेल रहे है। उन्होंने कहा कि जब चुनाव से पहले पदों को भरा जा रहा था, तब उन्होंने क्यों इस प्रक्रिया को रुकवाया दिया। उधर, इस बारे में मंदिर न्यास अध्यक्ष सुभाष गौतम ने बताया कि मैंने अभी हाल ही में कार्यभार संभाला है। न्यास के सभी कार्यों को वे स्वयं देख रहे है। उन्होंने बताया कि रिक्त पद जल्द भर दिए जाए।