Saturday, January 25, 2020 11:56 PM

नशे के खात्मे को हर वर्ग को आना होगा आगे

नादौन  - आज समाज में युवाओं में बढ़ रहे नशे के चलन को रोकना हर नागरिक की जिम्मेदारी है। इसके लिए समाज के हर वर्ग को आगे आना होगा। यह विचार थाना प्रभारी नादौन प्रवीण राणा ने डिग्री कालेज नादौन में युवाओं को अपने संबोधन में व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि नशे की आपूर्ति पर तो पुलिस विभाग ने नुकेल कसी हुई है, परंतु नशे की मांग को रोकने के लिए समाज के हर वर्ग को आगे आना चाहिए। इस कार्य में अध्यापक वर्ग बड़ी भूमिका निभा सकता है। उन्होंने कहा कि शिक्षण संस्थानों में आज भी विद्यार्थी नशे के चंगुल में फंस रहे हैं, जिनकी पहचान करना तथा उन्हें वैज्ञानिक ढंग से जागरूक करके समाज की मुख्यधारा में लाना अति आवश्यक है। ठाकुर ने कहा कि अध्यापकों को ऐसे बच्चों के लक्षणों व गतिविधयों पर नजर रखनी चाहिए और जब भी ऐसे बच्चों की पहचान हो तो उनके साथ वैज्ञानिक ढंग से चर्चा कर इस समस्या का समाधान किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि किसी भी तरह का नशा करने वाले बच्चों को समय रहते पहचान कर उस पर पूरी निगरानी रखनी चाहिए। उन्होंने बताया कि नशा करने की कोई उम्र नहीं होती है यह लत किसी को भी किसी भी आयु वर्ग में लग सकती है। उन्होंने बताया कि नशे की गर्त में फंसे बच्चों में आत्मविश्वास की भावना को जागृत करने में अध्यापक बड़ी भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने समस्त अध्यापक वर्ग को इन विषयों को गंभीरता से लेने का आह्वान किया। उन्होंने स्वच्छता अभियान में सहयोग देने व पर्यावरण संरक्षण के प्रति भी जागरूक किया तथा कहा कि हर घर में बच्चों व युवाओं को उनके अभिभावक यातायात नियमों का पालन करने के प्रति जागरूक करें।