Friday, February 21, 2020 01:00 PM

नहर किनारे सड़क पर गड्ढे मौत को दावत

नेरचौक  - बीएसएल नहर किनारे बनी सड़क पर पड़े गड्ढे हादसों को न्योता दे रहे हैं, मगर बीबीएमबी प्रबंधन हाथों पर हाथ रख किसी बड़े हादसे के इंतजार में है। बद से बदत्तर हुई सड़क पर गाड़ी चलना तो दूर पैदल चलना भी खतरे से खाली नहीं रह गया है। लोग लंबे समय से सड़क मरम्मत के इंतजार में हैं, लेकिन प्रतीत होता है कि बीबीएमबी प्रबंधन ने इसे राम भरोसे छोड़ रखा है। जब कभी सड़क बारे खबर छपती है तो तुरंत गड्ढों को मिट्टी से भर दिया जाता है। बस स्टॉप सुरांढ़ी से लेकर बग्गी तक सड़क पर दो-दो फुट के गड्ढे पड़े होने के चलते वाहन चालकों के लिए सफर करना खतरे से खाली नहीं है। बीबीएमबी प्रबंधन के सुस्त रवैये के चलते यहां से गुजरने वाले सैकड़ों वाहन चालकों व राहगीरों को प्रतिदिन समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है, जिससे उनकी महंगी गाडि़यां भी खटारा बनती जा रही हैं। बारिश के दौरान तो गड्ढों में पानी भरा होने से वाहन चालकों को पता नहीं चल पाता की सड़क कहा पर है, जब भी इस बावत बीबीएमबी प्रबंधन से बात की जाती है तो बस एक ही रटा रटाया उत्तर मिलता है कि टैंडर प्रकिया आरंभ है, जल्द ही कार्य शुरू कर दिया जाएगा। सुस्त प्रबंधन के चलते लोगों की जान पर बन आई है, लेकिन न तो प्रदेश सरकार न ही केंद्र सरकार में बैठे उनके नुमाइंदे इस बारे गंभीरता दिखा रहे हैं। उधर, एसपी शर्मा, अधिशाषी अभियंता बीबीएमबी का कहना है कि सड़क को पक्का करने के लिए टेंडर प्रकिया पूरी हो गई है। मौसम खुलते ही पक्का करने का कार्य आरंभ कर दिया जाएगा। तब तक गड्ढों को सीमेंट और रेंप मिट्टी के मेल से भरा जाएगा।