Friday, September 24, 2021 06:06 AM

नालागढ़ में बायो डायवर्सिटी पार्क बनकर तैयार

57 लाख रुपए हुए खर्च, जॉगिंग ट्रैक की भी सुविधा, वन मंत्री जल्द करेंगे शुभारंभ

कार्यालय संवाददाता—नालागढ़ वन विभाग द्वारा नालागढ़ में निर्मित वन विहार अब नए लुक में नजर आएगा। लोगों को प्रकृति की जानकारी के अलावा घूमने फिरने के लिए वन विहार का अब बायो डायवर्सिटी पार्क के रूप में जल्द ही लाभ मिलेगा। वन विभाग द्वारा अपने कार्यालय के समीप बनाए गए वन विहार को बायो डायवर्सिटी पार्क में तब्दील किया गया है, जिस पर 57 लाख रुपए की धनराशि खर्च की गई है। विभाग के मुताबिक जुलाई माह के अंत में इसे जनता को समर्पित कर दिया जाएगा और इसका शुभारंभ वन मंत्री करेंगे। विभाग द्वारा परिसर को 11 सेक्टरों में विभाजित कर विलुप्त हुई 52 प्रजातियों के 1500 से अधिक पौधे रोपित किए गए है।

प्रत्येक सेक्टर में 150 से 200 पौधे रोपित किए है। इस पार्क के बनने से लोगों को नालागढ़ में एक और बेहतर स्थल घूमने फिरने व व्यायाम करने के लिए मुहैया हो गया है। पार्क में पशु पक्षियों व तितलियों का भी संरक्षण होगा और बाकायदा उनके नामों के साइन बोर्ड भी प्रदर्शित होंगे, जो बच्चों सहित लोगों को महत्त्वपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। यह पार्क कुल मिलकर प्रकृति के अनूठे नजारे से सराबोर है, वहीं एक बड़े पिकनिक स्थल के साथ ज्ञानवर्धक जानकारियों के समावेश से भरपूर बनाया गया है। जानकारी के अनुसार वन विभाग द्वारा अब नालागढ़ में एनजीटी के निर्देशनुसार बायो डायवर्सिटी पार्क विकसित कर दिया गया है, जो ज्ञान का केंद्र बनेगा। 3 हेक्टेयर भूमि पर बने इस पार्क में विलुप्त हो रही प्रजातियों के पेड़ पौधे रोपे गए है, वहीं पशु पक्षियों व तितलियों के संरक्षण का भी यह माध्यम बना है। वनमंडल नालागढ़ के डीएफओ यशुदीप सिंह ने बताया कि वन विहार को 57 लाख की लागत से बायो डायवर्सिटी पार्क में तब्दील किया गया है। उन्होंने कहा कि जुलाई माह के अंत में इसे जनता को समर्पित कर दिया जाएगा, इसके उद्घाटन के लिए वन मंत्री से समय मांगा गया है।