Monday, August 26, 2019 11:35 AM

नालागढ़ से बद्दी तक हाई-वे के पुलों का किया मुआयना

एसडीएम ने लोक निर्माण विभाग व एनएच विभाग के अधिकारियों के साथ लिया जायजा, सभी पुलों के आसपास प्राथमिकता से सफाई करने के दिए निर्देश

नालागढ़ -औद्योगिक क्षेत्र नालागढ़ और बद्दी को जोड़ने वाले महत्त्वपूर्ण एनएच-105 पर बने पुलों का एसडीएम प्रशांत देष्टा ने निरीक्षण कर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए। इस दौरान लोक  निर्माण विभाग नालागढ़ मंडल के एक्सईएन संजीव अग्निहोत्री, नहाई से साइट इंजीनियर दिनेश पुनिया, एनएच विभाग के जेई रमेश पराशर आदि उपस्थित रहे। एसडीएम ने जगह-जगह पुलों का निरीक्षण करके, जहां स्थिति का जायजा लिया, वहीं पुलों पर रेलिंग की भी जांच की। इस दौरान निर्णय लिया गया है कि नालागढ़ से बद्दी तक एनएच के बीच बने पुलों के आसपास की साफ-सफाई को प्राथमिकता पर किया जाएगा, ताकि बरसात के चलते नदी नालों के उफान में आने से पानी का बहाव पुलों के ऊपर से न गुजर सके और यातायात भी प्रभावित न हो। क्षेत्र में आजकल बारिशें हो रही हंै और बरसात का पानी पुलों के ऊपर से गुजर जाता है, जिसे लेकर प्रशासन पहले से ही मुस्तैद हो गया है, ताकि समय रहते पुलों के आसपास की सफाई हो सके, जिससे यातायात अवरूद्ध न हो सके। जानकारी के अनुसार नालागढ़ से बद्दी तक के 16 किलोमीटर एनएच मार्ग पर बने पुलों के आसपास साफ-सफाई करके नदी-नालों के पानी की निकासी का सही ढंग से प्रावधान किया जाएगा, ताकि बारिश के कारण नदी-नालों का जलस्तर बढ़ जाने के बावजूद पानी पुलों के नीचे से आसानी से गुजर सके और पुलों के ऊपर पानी न आए तथा यातायात प्रभावित न हो सके। नालागढ़ से बद्दी तक खेड़ा, बागवानियां, मानपुरा, भुड्ड बैरियर, संडोली व बद्दी आदि पुल आते हंै और नदी-नालों के उफान पर आने के कारण कई मर्तबा इनका पानी पुलों के ऊपर से गुजरने लगता है, जिससे मार्ग अवरूद्ध हो जाता है और लोगों को आवागमन में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में प्रशासन ने न केवल इस हाई-वे पर आने वाले पुलों का न केवल निरीक्षण किया, अपितु इन पुलों के आसपास प्राथमिकता के आधार पर सफाई करने का निर्णय लिया है, ताकि नदी-नालों की जल निकासी सही ढंग से हो सके और पुलों के ऊपर पानी का बहाव न आ सके। एसडीएम नालागढ़ प्रशांत देष्टा ने कहा कि नालागढ़ व बद्दी को जोड़ने के लिए यह मार्गमहत्त्वपूर्ण कड़ी का काम करता है और आजकल बारिशों का दौर चला  हुआ है और बरसात का पानी पुलों के ऊपर न आए, इसके लिए सफाई अभियान को तेज करने के अधिकारियों को निर्देश जारी किए गए है, वहीं पुलों की टूटी हुई रेलिंग को भी दुरुस्त बनाने को कहा गया है, ताकि लोगों सहित वाहन चालकों को किसी प्रकार की परेशानी न हो।