Monday, November 19, 2018 05:00 PM

निजी बसें भी इलेक्ट्रॉनिक मशीनों से काटेंगी टिकटें

सुंदरनगर— सरकारी बसों की तरह अब निजी बसों में भी इलेक्ट्रॉनिक मशीनों से ही किराया वसूला जाएगा। इस बात की पुष्टि करते हुए परिवहन मंत्री गोविंद ठाकुर ने कहा कि किराया वृद्धि के साथ जल्द ही नया सिस्टम लागू होगा । उन्होंने साथ ही कहा कि लंबे रूट की बसों के चालक व परिचालकों को ठहरने की बेहतर सुविधाएं मुहैया होंगी, जहां पर एसी रूम सहित अन्य सुविधाओं भी मिलेंगी। दिल्ली में चालकों व परिचालकों के ठहरने की जगहों का दौरा करने के बाद परिवहन मंत्री गोविंद ठाकुर ने यह अहम निर्णय निगम के स्टाफ के हित में लिया है, क्योंकि स्टाफ हर मौसम में वहां पर टीन के कमरों में रहने को विवश है। उन्होंने कहा कि पूर्व की कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में कई ऐसे निर्णय लिए गए, जिनसे निगम को पूरी तरह घाटे में झोंक दिया गया। वर्ष 2013 से पूर्व एचआरटीसी बसों की खरीद को लेकर किसी तरह का कोई लोन नहीं लेती थी, लेकिन पूर्व कांगे्रस सरकार ने 270 करोड़ का लोन लेकर 1275 बसें खरीद डालीं। उससे पूर्व एक बस प्रतिदिन औसतन 230 किलोमीटर चलती थी, लेकिन इन बसों के आने के उपरांत यह औसत घटकर 180 किलोमीटर रह गई। भाजपा सरकार के सत्ता में आते ही इस औसत को दोबारा बढ़ाकर 195 किलोमीटर तक पहुंचाया गया है।