Monday, August 26, 2019 11:05 AM

निष्कासित छात्रों के साथ आई एबीवीपी

हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में किया प्रदर्शन; आधे-अधूरे रिजल्ट पर प्रशासन को लगाई फटकार, छात्रों ने कुलपति को कहा अहंकारी

शिमला -अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय द्वारा यूजी में छात्र-छात्राओं के अधूरे रिजल्ट्स को घोषित करने और इसी मांग को लेकर निष्कासित किए गए दस छात्रों के समर्थन में शनिवार को विश्विद्यालय के पिंक पटेल चौक पर विद्यार्थियों के भविष्य को लाश दिखाकर प्रदर्शन किया। पिछले कल हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में यूजी की प्रवेश परीक्षाओं की मैरिट लिस्ट तो लगा दी है, लेकिन  विश्वविद्यालय प्रशासन ने एक बार भी नहीं सोचा की क्या सभी प्रवेश परीक्षाएं उत्तीर्ण करने वाले विद्यार्थियों  के यूजी के परिणाम घोषित हो चुके हैं या नहीं। कई विद्यार्थियों के आधे अधूरे परिणामों के साथ यूजी प्रवेश की मैरिट लिस्ट लगा दी गई है जो की प्रशाशन की कार्यप्रणाली पर गहन प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है जिस तरह 1975 में आपातकाल जैसे काले समय को खत्म करने का काम देश के छात्र-छात्राओं ने जेपी नारायण मूवमेंट खड़ा करके किया था उसी प्रकार से इस तानाशाह कुलपति का अहंकार और विश्विद्यालय में बने आपातकाल जैसा समय जहां छात्र अपने हित की बात नही कर सकता उसको  खत्म करने का काम भी विद्यार्थी परिषद करेगा। विद्यार्थी परिषद अपने इस प्रदर्शन के जरिए विश्विद्यालय प्रशासन को यह मांग है कि जल्द से जल्द आधे अधूरे पड़े रिजल्ट्स को घोषित किया जाए साथ ही इदस छात्रों का निष्कासन को वापस लिया जाए और जिन विद्यार्थियों के परिणाम अभी तक घोषित नहीं हुए हैं और उनका नाम हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में प्रवेश परीक्षा में आ गया है उन छात्र-छात्राओं के भी परिणामों को घोषित किया जाए। उन्होंने कहा कि यदि उनकी मांगो को नही माना जाता है तो वह 22 जुलाई विश्विद्यालय स्थापना दिवस पर विद्यार्थी परिषद् अपनी पूरी ताकत और  प्रदेश भर से तरुणाई शक्ति के साथ प्रशासन का विरोध करेगी।