Monday, May 25, 2020 04:52 PM

नेरवा में मरकज निजामुद्दीन से लौटे चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज

नेरवा  - हरियाणा के मेवात में एक तबलीगी जमात में भाग लेकर वापसी में निजामुद्दीन मरकज में दो दिन रुकने के बाद नेरवा के विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों के चार लोगों के खिलाफ सूचना और अपनी ट्रैवलिंग हिस्ट्री छिपाने के आरोप में मामला दर्ज कर उन्हें आगामी जांच के लिए शिमला भेज दिया गया है। जानकारी के अनुसार ये लोग 40 दिन पूर्व उत्तराखंड के मोहंड क्षेत्र की जमात के साथ मेवात गए थे। इनमें से इब्राहिम पुत्र रोशन दीन गांव मूलशाक, डाकघर भराणू, वजीर पुत्र मीर हमजा, गांव दाची, डाकघर पौडि़या एवं लियाकत अली, पुत्र इलमदीन, गांव बीड़ी, डाकघर गयां आठ और नौ मार्च को निजामुद्दीन मरकज में रुके थे एवं होली वाले दिन अपने घर पहुंचे थे,  जबकि चौथा व्यक्ति गुलाम हुसैन पुत्र बाज दीन, गांव शेतल, डाकघर भराणू 18 मार्च को दिल्ली स्थित निजामुद्दीन मरकज में रुकने के बाद 19 मार्च को उत्तरखंड के हर्बर्ट पुर में रूका था एवं 20 मार्च को अपने घर शेतल पहुंचा था। प्रशासन ने इन चारों व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज कर रविवार देर रात इन्हें आगामी जांच के लिए पुलिस के घेरे में शिमला भेज दिया है। हालांकि प्रारंभिक जांच में इनमें कोरोना के कोई भी लक्षण नहीं पाए गए हैं। इनमें से एक व्यक्ति को घर आए सोलह दिन एवं अन्य तीन को करीब चार सप्ताह हो चुके हैं। इन चारों व्यक्तियों के खिलाफ नेरवा थाना में आईपीसी की धारा 188 269 270 एवं डिजॉस्टर एक्ट की धारा-51 के तहत मामला दर्ज कर आगामी छानबीन शुरू कर दी गई है।  एसडीपीओ चौपाल वरुण पटियाल ने मामले की पुष्टि की है।