Sunday, July 05, 2020 12:27 PM

पगार न मिली, तो नहीं चलाएंगे बसें, कांगड़ा में प्राइवेट बसों के ड्राइवर-कंडक्टरों की दोटूक

कांगड़ा – कांगड़ा के मुख्य बस अड्डा पर रविवार को निजी बसों के सैकड़ों चालकों व परिचालकों ने बस ऑपरेटर्ज के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए धरना-प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि यदि उन्हें वेतन नहीं दिया गया तो वे ड्यूटी पर नहीं आएंगे। इस अवसर पर चालकों व परिचालकों ने अपने मालिकों के खिलाफ आरोप लगाते हुए कहा कि जब से कोरोना महामारी को लेकर लॉकडाउन शुरू हुआ है और बस सेवाएं बंद पड़ी हैं, तब से लेकर आज तक न तो उनके मालिकों ने उनकी सुध ली और न ही उन्हें किसी प्रकार का कोई वेतन अथवा अन्य खर्चा दिया। इसके चलते उन्हें व उनके परिवार को रोजी-रोटी के लाले पड़ गए हैं। धरना प्रदर्शन पर बैठे चालकों व परिचालकों ने यह भी कहा कि वे अपनी सेवाएं तभी शुरू करेंगे, जब बस ऑपरेटर  भी बीमा करवाएंगे, ताकि यदि संक्रमण के चलते उन्हें कुछ हो जाए तो उनके परिवार को किसी पर मोहताज न होना पड़े। उन्होंने कहा कि हिमाचल पथ परिवहन निगम के चालकों व परिचालकों का भी सरकार ने 50-50 लाख रुपए का बीमा करवाया है। उसी तर्ज पर उनका भी बीमा होना चाहिए, क्योंकि वह भी उसी तर्ज पर अपनी सेवाएं उपलब्ध करवा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार को भी इस मामले में हस्तक्षेप करके उन्हें वेतन दिलवाने के लिए प्रयास करना चाहिए। पथ परिवहन निगम की बसें तो उनकी वर्कशॉप में सेनेटाइज हो जाएंगी, परंतु यह भी सुनिश्चित किया जाए कि प्राइवेट बसों को सेनेटाइज कहां और कैसे होगा। निजी बसों के चालकों-परिचालकों ने कहा है कि यदि उनकी मांगों को गंभीरता से नहीं लिया जाएगा तो वे अपनी सेवाएं देने में असमर्थ रहेंगे और बसों को नहीं चलाएंगे।

The post पगार न मिली, तो नहीं चलाएंगे बसें, कांगड़ा में प्राइवेट बसों के ड्राइवर-कंडक्टरों की दोटूक appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.