Friday, December 13, 2019 07:24 PM

पर्वतारोहियों ने नापे करेरी के पहाड़

साहसिक शिविर के दौरान कांगड़ा-चंबा-ऊना-हमीरपुर के युवाओं ने दिखाया साहस का प्रदर्शन, डीसी ने किया सम्मानित

धर्मशाला-नेहरू युवा केंद्र धर्मशाला ने युवा कार्यक्रम के तहत  साहसिक शिविर का आयोजन करेरी में किया। इसमें कांगड़ा-चंबा व ऊना-हमीरपुर के स्वयंसेवकों ने भाग लिया। इस दौरान युवाओं ने पहाड़ी व जंगल भरे क्षेत्र में अपने साहस का प्रदर्शन करते हुए रॉक क्लाइबिंग, जुमरिंग, जिपलाइन, स्ट्रीम वाक सहित अन्य  एडवेंचर खेलों में दम दिखाया। शिविर के समापन समारोह में पहुंचे उपायुक्त कांगड़ा राकेश कुमार प्रजापति ने युवाओं व प्रशिक्षकों को प्रमाण पत्र व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।   कार्यक्रम में कुछ युवाओं ने शिविर के बारे मंे अपना फीडबैक दिया। युवाओं ने बताया कि इस शिविर में उन्होंने क्या सीखा और अब समाज के अन्य लोगों को किस तरह से जागरूक किया जा सकता है।  इस कैंप मंे 15 से 29 साल के चार जिलों से चयनित युवाओं ने भाग लिया।  सभी युवाओं ने नेहरू युवा केंद्र धर्मशाला के जिला युवा समन्वयक नरेश शर्मा की अध्यक्षता में इस शिविर में कई पहलुओं को जाना। नरेश शर्मा ने कहा कि इस कैंप में युवाओं को स्वयं सहायता, स्वावलंबन, सहयोग सहित अन्य गुणों से परिचित होने का मौका मिला। यह कैंप युवाओं में कई तरह के सकारात्मक बदलाव लेकर आएगा। कैंप पूर्ण रूप से एडवेंचर खेलों पर निर्धारित रहा । जिसमें, रॉक क्लाइबिंग, जुमरिंग, जिपलाइन, स्ट्रीम वाक सहित अन्य  एडवेंचर खेल आयोजित की गई। उन्होंने कहा कि कैंप का उद्देश्य केवल मजा और मस्ती ही नहीं बल्कि जीवन कौशल का अनुभव था। इसके बाद जिला उपायुक्त ने सभी युवाओं को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया, तथा सभी प्रशिक्षकों को प्रशंसा प्रमाण पत्र देकर समानित किया। इस अवसर पर प्रशिक्षक गुरदेव राणा, प्रदीप कुमार, बिजु, योगेश और कंचन बाला ने भी युवाओं को टिप्स दिए।

 झील से हटाया पोलिथीन

युवाओं ने करेरी लेक के आसपास के पोलिथीन को भी हटाया व बीच भी पहुंच तक पड़े पोलिथीन व अन्य गंदगी को हटाया झील को साफ व स्वच्छ बनाया। इस दौरान कांगड़ा के अजय राणा व अंशुमन चौधरी को बेस्ट वालंटियर के अवार्ड से समानित किया गया। इस कार्यक्रम में चार जिलों से पहुंचे रोहित, साहिल, अंकित, शुभम, सुखबिंद्र, शमीमा, आरजू, ज्योति,  रजनी, आरती और मीनाक्षी का प्रदर्शन सराहनीय रहा।