Saturday, August 08, 2020 11:12 AM

पहला सोमवार…शिवालयों में पसरा सन्नाटा

 कोरोना वायरस के चलते मंदिर बंद होने से भक्तों ने घरों में ही की भोलेनाथ की पूजा

सोलन-श्रावण मास के प्रथम सोमवार को सोलन जिला के शिवालयों में भोले नाथ की आराधना की गई। इस वर्ष कोविड-19 के चलते शिवालयों में सन्नाटा पसरा रहा। हालांकि मंदिरों के पुजारियों ने भोलेनाथ की पूजा-अर्चना की और सुख शांति की कामना की। बता दें कि कोरोना महामारी के चलते हिमाचल प्रदेश में अभी  मंदिर नहीं खोले गए हैं। जिसको देखते हुए लोगों ने अपने घरों में रह कर ही भोले नाथ की पूजा-अर्चना की। श्रावण मास में जो सबसे बड़ा महत्त्व बताया गया है वह पार्थिव शिवलिंग का बताया गया है। आप घर पर मिट्टी से पार्थिव शिवलिंग बना सकते हैं। मनोकामनाओं को पूरा करने व भगवान शिव के पावन माह सावन आरंभ हो गया है। इस माह में भक्त शिव की आराधना करते हैं।  सनातन धर्म मंदिर सोलन के पुजारी संदीप शर्मा ने बताया कि श्रावण मास का बहुत बड़ा महत्त्व है। उन्होंने कहा कि जो भक्तजन इस मास में भोले नाथ की मन से पूजा करते हैं उनकी मनोकामना भोले नाथ अवश्य पूरी करते हैं।  उन्होंने सभी से आग्रह किया कि सभी अपने घरों में रह कर ही भोले नाथ की पूजा करें व कोरोना वायरस से लड़ने में सरकार व प्रशासन का सहयोग दें। उन्होंने कहा कि जैसे ही मंदिर खोलने के निर्देश सरकार द्वारा दिए जाएंगे वैसे ही मंदिरों को खोला जाएगा व श्रद्धालु मंदिरों में दर्शन कर सकेंगे। उन्होंने सभी को अपना आशीर्वाद देते हुए कहा कि भगवान भोले नाथ सभी की मनोकामनाएं पूर्ण करें।

The post पहला सोमवार… शिवालयों में पसरा सन्नाटा appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.