Tuesday, January 21, 2020 12:01 PM

पहली बार देखी ऐसी महंगाई

पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह बोले, बदले की भावना से काम कर रही केंद्र सरकार

शिमला - वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने कहा है कि अपने राजनीतिक जीवनकाल में उन्होंने महंगाई का ऐसा रौद्र रूप पहले कभी नहीं देखा है। देश की आर्थिक परिस्थितियों को सुधारने की बजाय बदतर बनाया जा रहा है।  उन्होंने कहा कि पूरे देश में निराशाजनक माहौल बना हुआ है। प्याज की कीमतें शतक पार कर चुकी हैं, ऐसी परिस्थितियों से देश कभी नहीं जूझा, जब देश की जीडीपी दर ही चार प्रतिशत तक पहुंचने वाली है। उन्होंने कहा कि ऐसी ही स्थितियों से हिमाचल प्रदेश भी गुजर रहा है। बीते दो साल में वर्तमान प्रदेश भाजपा सरकार ने भी प्रदेश की जनता को निराश ही किया है, जबकि धरातल पर कोई काम नहीं हो रहा है। स्कूल वर्दी खरीद में ही बड़े स्तर पर गोलमाल की आशंका जताई जा रही है। इस पर कांग्रेस पार्टी द्वारा मामला उठाने के बाद जांच बिठाई जा रही है। उन्होंने हैरानी जताते हुए कहा कि जनता के पैसे से इन्वेस्टर मीट जैसा मेगा इवेंट करवाने के बावजूद राज्य सरकार के हाथ खाली रह गए हैं, जबकि इस पर सरकार ने खूब शोर-शराबा किया था। वीरभद्र सिंह ने कहा कि अब तक इन्वेस्टर मीट पर कितना निवेश हुआ, विधानसभा सत्र में सरकार को इसका जबाव देना ही होगा। उन्होंने कहा कि सरकार की नाकामियां उजागर हो रही हैं तथा अब ऐसा भी नहीं कह सकते हैं कि कोई नई-नवेली सरकार बनी हुई है, जिसे संभलने का और ज्यादा अवसर दिया जाए। वीरभद्र सिंह ने कहा कि उन्होंने अपनी जिंदगी का आधे से ज्यादा सफर राजनीति में ही बिताया है, लेकिन ऐसी परिस्थितियां पहले कभी नहीं देखी, जब जनता के मन में ही सरकार के खिलाफ इस तरह का आक्रोश हो।