Tuesday, November 19, 2019 03:12 AM

पहाड़ी परिधानों में रैंप वॉक ने लूटा दिल

इन्वेस्टर्स मीट में भाषा संस्कृति विभाग की गजब की परफार्मेंस, एक मंच पर हिमाचल

धर्मशाला - एक मंच पर पूरे हिमाचल को इन्वेस्टर मीट पर भाषा संस्कृति विभाग ने इस तरह दिखाया कि सभी लोग कायल हो गए। पहाड़़ी परिधान में रैंप वॉक करते हुए जहां लाहुल-स्पीति की लड़की दिखी, तो वहीं ऊना की बाला भी खूब जची। देश-विदेश से आए मेहमानों के मनोरंजन के लिए यह विशेष प्रस्तुति थी, जो शुक्रवार देर रात यहां पुलिस ग्राउंड में हुई और सभी लोगों ने खुले मन से इसकी सराहना की। आखिर लोग सराहते भी क्यों नहीं, पहली बार इस तरह का कोई आयोजन हुआ था। सरकारी समारोह में सरकारी महकमे  ने ऐसे प्रस्तुति से सभी का दिल जीत लिया। यहां प्रदेश की बालाओं ने नृत्य को डांस ड्रामा के रूप में प्रस्तुत कर सभी को चौंका दिया। शिमला की कोरियोग्राफर पूनम ने इसकी स्क्रिप्ट लिखी और कोरियोग्राफी की थी। इस कार्यक्रम में पारंपरिक तरह से अतिथियों का स्वागत किया गया। इंट्रोडक्शन के साथ तीन जिलों, जिनमें कुल्लू, सिरमौर व शिमला की नाटी को एक साथ एक गाने पर पेश किया गया। इन नाटियों ने दर्शकों का मन मोह लिया। इसके बाद प्रदेश की संस्कृति की झलक दिखाते हुए मेलों और उत्सवों के बारे में मेहमानों को जानकारी दी गई, साथ ही देवता की पालकी के साथ बेहतरीन कोरियोग्राफी दिखाई गई। देवनृत्य में सोलन, शिमला, कुल्लू व सिरमौर को शामिल किया गया। इस कार्यक्रम की एक बेहतरीन प्रस्तुति शिव शक्ति का महत्त्व दिखाने की थी। हिमाचल में प्रसिद्ध शक्तिपीठों के जहां दर्शन करवाए गए, वहीं उन मंदिरों की कलाकृतियों को यहां दिखाया गया। कलाकारों ने दिखा दिया कि हिमाचल की संस्कृति वृहद है, जिसपर यहां मौजूद मेहमानों ने खूब तवज्जो दी और तालियां बजाकर इनका स्वागत किया। आखिर में एक साथ मंच पर 140 कलाकार जुटे, जिन्हें देखकर हिमाचल की खूबसूरत का अंदाजा लगाया जा सकता था।

बेहद पसंद आया कांगड़ा का झमाकड़ा

प्रदेश के सभी जिलों, जिसमें किन्नौर व लाहुल-स्पीति भी शामिल थे, के कलाकारों ने एक साथ मंच पर आकर नृत्य किया। यहां पूरा हिमाचल अलग-अलग दिखाई दे रहा था। इसमें मंडी व कांगड़ा के नृत्य बखूबी प्रदर्शित किए गए और कांगड़ा के झमाकड़ा ने खूब वाहवाही लूटी।