Wednesday, September 30, 2020 04:42 AM

पहेलियां

दूर हम रहते हैं नहीं पकड़ में आते हैं

दिन में कोई देख न पाए हमें, रात को घर से बाहर निकल जाते है

****

हॉकी में है, क्रिकेट में नहीं

बर्फी में है, जलेबी में नहीं

बूझो मेरा नाम सही

***

जो मुझे बनाता है, वह ही मुझे सुन पाता है, मैं क्या हूं

****

धोखा दिया भाई ने फिर भी,

रुका नहीं वह वीर महान।

फिरा भटकता वन जंगल में,

प्यारा उसे था राजस्थान।

****

सुबह सुबह ही आता हूं

दुनिया की ख़बरें लाता हूं

सबको रहता मेरा इंतजार

हर कोई करता मुझसे प्यार

उत्तर : 1 .तारे   2 . चतुर्भुज आकार   3 . सोच-विचार  4 . महाराणा प्रताप 5 . अखबार