Tuesday, November 19, 2019 03:05 AM

पांवटा एसवीएम के छात्रों ने कन्या स्कूल में दी सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति

पांवटा साहिब - पांवटा साहिब के राजकीय आदर्श कन्या वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला में सरस्वती विद्या मंदिर पांवटा के छात्र-छात्राओं ने संस्कृत सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। कार्यक्रम का शुभारंभ द्वीप प्रज्वलित कर हिमाचल शिक्षा समिति के संस्कृत प्रमुख प्रवीण श्याम चंद शर्मा, कन्या स्कूल के प्रधानाचार्य रविंद्र कुमार और सरस्वती विद्या मंदिर विद्यालय की प्राचार्या आरती पराशर ने विधिवत किया। उसके बाद सरस्वती विद्या मंदिर विद्यालय के भैया-बहिनों ने संस्कृत भाषा में अनेकों कार्यक्रम पेश किए, जिसकी सभी ने सराहना की। विद्यार्थियों ने संस्कृत स्वागत गीत, मम् परिचय, शरीरस्य आंगनां परिचय, वस्तुनां परिचय, समूह गान आदि अनेक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। प्राचार्या आरती पराशर ने उपस्थित अतिथियों का परिचय और सम्मान किया। इस मौके पर हिमाचल शिक्षा समिति के संस्कृत प्रमुख प्रवीण शास्त्री ने बताया कि संस्कृत भाषा भारत की आत्मा है। इसी भाषा के कारण भारत विश्व गुरु रहा है। आज संस्कृत भाषा का अस्तित्त्व खतरे में है। इसे पुनः स्थापित करने के लिए सभी भारतीयों को प्रयास करना होगा। यह पंडितों ही नहीं बल्कि पूरे भारत वर्ष की भाषा है। इसलिए हम सभी का दायित्त्व बनता है कि इस भाषा का पोषण, संरक्षण और संवर्द्धन करें। उन्होंने कहा कि विद्या भारती ने सभी विद्या मंदिरों मंे दूसरी कक्षा से ही बच्चों का ेसंस्कृत भाषा पढ़ने का प्रावधान किया है। इस दौरान कन्या स्कूल की छात्राओं ने भी संस्कृत भाषा में कार्यक्रम प्रस्तुत किए। इस मौके पर स्कूल का स्टाफ भी मौजूद रहा।