Friday, December 13, 2019 07:13 PM

पांवटा में गुरु नानक देव के प्रकटोत्सव की धूम

 सजा विशेष दीवान; लाखों संगत ने भरी हाजिरी, अटूट लंगर चला

पांवटा साहिब -सिख समाज के पहले गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकटोत्सव की पांवटा साहिब मंे धूम रही। गुरुद्वारा साहिब मंे गुरु नानक देव जी का प्रकाश पर्व बड़े हर्षोल्लास व धूमधाम के साथ मनाया गया। मंगलवार को गुरुद्वारा श्री पांवटा साहिब में सुबह से ही श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं ने गुरुद्वारे में माथा टेक कर आशीर्वाद लिया। इस मौके पर विशेष रूप निशान साहब की सेवा व अमृत संचार हुआ। गुरुद्वारा साहिब में सारा दिन विशेष दीवान सजाया गया। बीते रविवार को भक्तों द्वारा रखे गए तीन अखंड पाठ का भी भोग के साथ समापन हो गया। गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी पांवटा साहिब के उपप्रधान जत्थेदार हरभजन सिंह, प्रबंधक सरदार जगीर सिंह व कोषाध्यक्ष गुरमीत सिंह ने बताया कि गुरु नानक देव जी का प्रकटोत्सव पर पांवटा मंे बड़ी संख्या मंे सिख संगत पहुंची। हर वर्ष की तरह इस साल भी प्रकटोत्सव पर प्रभात फेरियों व अखंड पाठ का आयोजन किया गया। इस बार यह 550वां साला है जिस कारण रौनक दोगुनी रही। गुरु नानक देव जी के प्रकाश पर्व पर उत्तर भारत के विभिन्न राज्यों जम्मू-कश्मीर, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ व उत्तराखंड समेत दिल्ली आदि राज्यों से लाखों की संख्या में संगतें पहुंची। संगत यहां गुरुद्वारा श्री पांवटा साहिब के साथ हरियाणा राज्य के गुरुद्वारा श्री कपाल मोचन यमुनानगर मंे भी माथा टेक कर सुख-समृद्धि के लिए आशीर्वाद ले रहे हैं। पांवटा साहिब में आने वाली संगत के लिए रहने व ठहरने की पूरी व्यवस्था की गई थी और गुरुद्वारे में अटूट लंगर चलता रहा। मंगलवार को गुरु नानक देव जी के प्रकटोत्सव का मुख्य कार्यक्रम रहा, जिस कारण गुरुद्वारा साहिब मंे भारी संख्या में संगत माथा टेकने पहुंची। बहरहाल पांवटा साहिब में गुरु  नानक देव जी का प्रकट उत्सव बड़े ही धूमधाम से मनाया गया।