Monday, September 21, 2020 08:21 PM

पाकिस्तान कब बाज आएगा?

-राजेश कुमार चौहान, जालंधर

लगातार पिछले दो-तीन दिनों से पाकिस्तान में हुई नापाक हरकतों ने इसका नापाक चेहरा सारी दुनिया के आगे बेनकाब कर दिया है। यहां पहली निंदनीय घटना ननकाना साहिब में पथराव कर और फिर सिक्ख युवक की  निर्मम हत्या कर एक बार फिर यह दर्शा दिया है कि पाकिस्तान के कुछ लोग और कट्टरपंथी कभी भी अपनी घटिया संकीर्ण सोच नहीं बदल सकते और यह धर्म की आड़ में हिंसा, नफरत और वैर-विरोध करने से बाज नहीं आ सकते। जिस तरह से  पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर वहां के धर्म विशेष के लोग अत्याचार कर रहे और जान लेने से भी गुरेज नहीं कर रहे हैं, उसके लिए विश्वभर के सभी सत्ताधारियों और धर्म के लोगों को चाहिए कि जो धर्म के नाम पर आतंक फैला रहे हैं, उनका कड़ा विरोध करें और इसके लिए सख्त एक्शन लिया जाए।