Tuesday, August 20, 2019 12:57 PM

पारंपरिक लोक नृत्य ने लूटी वाहवाही

लाहुल पर्यटन उत्सव का समापन, मंत्री रामलाल मार्कंडेय ने भी की शिरकत

केलांग -जिला लाहुल-स्पीति के जिस्पा में आयोजित तीन दिवसीय लाहुल टूरिजम फेस्टिवल संपन्न हो गया। समापन अवसर पर कृषि, जनतातीय विकास एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री डा. रामलाल मार्कंडेय बतौर मुख्यातिथि शामिल हुए। इस अवसर पर लाहुल बौद्ध कला मंच के कलाकारों ने पारंपरिक लोक नृत्य प्रस्तुत कर मुख्यातिथि का स्वागत किया। समापन अवसर पर स्मारिका का विमोचन करने के पश्चात अपने संबोधन में कृषि मंत्री ने लाहुल पर्यटन उत्सव के आयोजकों के प्रयासों की सराहना करते हुए लाहुल ईको टूरिज्म सोसायटी को 51 हजार रुपए देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के आयोजन स्थानीय संस्कृषि को बचाने में कारगर साबित होते हैं। ऐसे आयोजनों से स्थानीय पर्यटन को भी बढ़ावा मिलता है तथा स्थानीय युवाओं को रोजगार के अवसर भी मिलते हैं। उत्सव कमेटी के अध्यक्ष रिगजिन हायरप्पा ने इस उत्सव में आयोजित किए गए कार्यक्रमों की विस्तृृत जानकारी मुख्यातिथि को दी। हायरप्पा ने बताया कि इस उत्सव में स्थानीय कलाकारों के साथ लेह व लद्दाख और नेपाल के कलाकारों ने सांस्कृतिक कायक्रमों में भाग लिया। इस दौरान मंत्री ने लाहुल में तैनात हिमाचल पुलिस के मुख्य आरक्षी लाहुल निवासी राजेश कटोच जिन्होंने कि गत वर्ष सितंबर माह में हुई बर्फबारी में पटसेऊ में बर्फ में फंसे करीब 85 पर्यटकों को बचाने में अहम भूमिका  निभाई थी को उत्कृष्ट कार्य करने के लिए विशेष तौर पर स्मृृति चिन्ह, मफलर व टोपी पहना कर सम्मानित किया। समापन अवसर पर मंत्री ने लदाख फिल्म सोसायटी के अध्यक्ष, लदाख स्काउट की तीरंदाजी टीम सहित विभिन्न खेल प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कार भी बांटे। इस अवसर पर कृषि मंत्री ने स्थानीय विद्युत बोर्ड के कर्मचारी नीमा तेंजिन व संवाददाता अशोक राणा, दिनेश जस्पा,  कुंदन शर्मा, प्रेम लाल, जसवंत सिंह और सोनू शर्मा को भी सम्मानित किया। इस अवसर पर उपमंडलाधिकारी केलांग अमर नेगी, जनजातीय सलाहकार समिति सदस्य पुष्पा देवी, नगर परिषद मनाली की पूर्व सदस्य चंद्रा सहित सैकड़ों स्थानीय लोग उपस्थित रहे।