Sunday, November 17, 2019 04:04 PM

पार्वती प्रोजेक्ट की हैड रेस टनल में लीकेज

पहाड़ी से फूट रही जलधारा, सपांगणी गांव में दहशत का आलम

सैंज  - पार्वती प्रोजेक्ट की हैड रेस टनल में बुधवार को भारी रिसाब हुआ। सपांगनी गांव की पहाड़ी में हुई इस लीकेज ने एनएचपीसी की फिर पोल खोल दी है। करीब पांच  करोड़ रुपए खर्च कर इस टनल की मरम्मत की गई थी, लेकिन इस टनल में हुए रिसाब ने सपांगनी गांव के आसपास रहने वाले लोगों को दहशत में डाल दिया है। बुधवार को एकाएक टनल की लीकेज ने स्थानीय लोगों व लारजी सैंज संपर्क मार्ग पर दौड़ रहे वाहन चालक डर गए। पार्वती की इस पहाड़ी में पिछले दिनों से हो रहे इस लीकेज की एनएचपीसी के अधिकारी भी सुध नहीं ले रहे हैं, जबकि टनल में रोजाना भारी मात्रा में रिसाब हो रहा है। विशेषज्ञ पार्वती जल विद्युत परियोजना के तृतीय चरण की हैड रेस टनल में हो रही लीकेज का कारण तलाश नहीं कर पाए हैं। पहाड़ी से लगातार जल धारा फूट रही है। 520 मेगावाट की इस परियोजना की टनल में पानी का रिसाव होने से निर्माण कार्य पर सवाल उठने लगे हैं। रिसाव से निपटने के लिए परियोजना का संचालन कर रही कंपनी एनएचपीसी अब तक करोड़ों रुपए खर्च कर चुकी है, लेकिन नतीजा शून्य है। टनल में हो रहा रिसाव एचएचपीसी के लिए सिरदर्द बना हुआ है। उधर, ग्रामीण कारदार मेहर सिंह, तीर्थ राम, महेंद्र, जगदीश धामी, मोहर सिंह, गुड्डू, नरेंद्र, रोशन लाल आदि का कहना है कि रिसाव के कारण पहाड़ी से पत्थर गिर रहे हैं। इससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कई लोगों का कहना है कि टनल कभी भी फट सकती है। अगर ऐसा हुआ तो पूरे गांव का नामोनिशान मिट जाएगा। ऐसे में एनएचपीसी को जल्द इस हल ढूंढना चाहिए। उधर, एनएचपीसी के जनसंपर्क प्रबंधक संजीव गुलेरिया ने कि  इस समस्या के समाधान के लिए आलाधिकारी मंथन कर रहे हैं।