Wednesday, December 11, 2019 05:36 PM

पीडब्ल्यूडी के काम पर उठी अंगुली

लोगों का आरोप, महकमे से गुणवत्ता की शिकायत करने पर भी चलता रहा सड़क का काम

बिझड़ी -धंगोटा में आयोजित जनमंच के दौरान लोक निर्माण विभाग के खिलाफ लोगों ने खूब मोर्चा खोला। लोगों ने कार्यक्रम के दौरान आरोप लगाते हुए साफ कहा कि नाबार्ड के अधीन बनाई गई सड़क का कार्य विरोध व शिकायत के बावजूद विभागीय अधिकारी ने जारी रखे। महज तीन सालों बाद ही इस सड़क का अस्तित्व खतरे में है, जबकि जमीन दान में देने वाले लोग असमंजस में हैं। मामला उपमंडल बड़सर के कुलेड़ा गांव का है। शिकायत के मुताबिक 2016 में इस सड़क का काम लोक निर्माण विभाग द्वारा नाबार्ड के माध्यम से करवाया जा रहा था, लेकिन स्थानीय लोग कार्य करने के ढंग व गुणवत्ता को लेकर विभाग से विरोध दर्ज करवाते रहे। शिकायत है कि विरोध के बावजूद काम चलता रहा। लोगों का कहना है कि इस सड़क पर सात स्कूली बसें रोज चलती हैं, लेकिन विभाग के रवैये के कारण सड़क खस्ताहाल में है। गांववासियों ने सीधे तौर पर विभाग को कटघरे में खड़ा करते हुए जांच की मांग की है। मंच पर मौजूद मंत्री राजीव सहजल ने अधिशाषी अभियंता को बुलाया तथा पूरे मामले की जांच के आदेश दे दिए। एक अन्य मामले में लोगों ने आरोप लगाया कि पिछले 30 वर्षों से लोक निर्माण विभाग नलेड़ा जनैन सड़क नहीं बना पाया है। बिझड़ी बाजार में पेवर ब्लॉक्स के कार्य को लेकर भी लोगों ने विभाग के खिलाफ शिकायत की। मौके पर अधिशाषी अभियंता को मंच से समस्या हल करवाने के निर्देश दिए गए हैं। मंच पर मौजूद जिलाधीश का कहना है कि डेढ़ महीने से बाजार बंद करने के बावजूद अगर सही काम नहीं किया गया, तो जिम्मेदारी विभागीय अधिकारियों की होगी।