Wednesday, December 11, 2019 05:27 PM

पुख्ता सुरक्षा के बीच चलेगा सत्र

सचिवालय में पुलिस के साथ तैयारियों पर चर्चा, 19 से चलेगा सेशन

शिमला - 19 अगस्त से शुरू होने जा रहे विधानसभा मानसून सत्र के लिए सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम हैं। चप्पे-चप्पे पर पुलिस की नजर रहेगी, जिसकी तैयारियों की समीक्षा बुधवार को विधानसभा अध्यक्ष डा. राजीव बिन्दल ने की। बैठक में यशपाल शर्मा सचिव विधान सभा, दिलजीत सिंह महानिरिक्षक इंटेलिजेंस, आसिफ जलाल उप-महानिरिक्षक दक्षिण रेंज, अमित कश्यप जिलाधीश जिला शिमला, हरबंस सिंह ब्रेस्कॉन निदेशक सूचना एवं जन संपर्क, ओमापति जम्वाल पुलिस अधीक्षक शिमला, विनोद कुमार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गुप्तचर (सुरक्षा) तथा  बीएस चौहान कमांडेंट होमगार्ड तृतीय वाहिनी शिमला शामिल हुए। बैठक में महत्त्वपूर्ण निर्णय लिया गया कि  सचिवालय में ई-प्रवेश पत्र लिखित आवेदन पर ही दिया जाएगा। ई-विधान प्रणाली के तहत सचिवालय इसे मुद्रित करेगी। यह आवेदन सभी ई-प्रवेश पत्र पाने वालों को अनिवार्य है। सचिवालय में ई-प्रवेश पत्र की जांच हेतु पुलिस द्वारा कम्प्यूटरीकृत जांच केंद्र मुख्य द्वारों पर स्थापित किए जाएंगे ताकि कम से कम असुविधा हो तथा जांच भी पूर्ण हो। बिंदल ने कहा कि पूर्व की भांति इस बार भी क्यूआर कोड के माध्यम से फोटो युक्त ई-प्रवेश पत्र को लैपटॉप के माध्यम से प्रमाणित किया जाएगा। आगंतुक सत्र के दौरान बायोमिट्रिक मशीन से चैक होने के बाद ही पास बनाकर विधानसभा परिसर में प्रवेश कर सकेंगे। बैठक में सदस्य तथा आगंतुकों को कम से कम असुविधा हो इसके दृष्टिगत निर्णय लिया गया कि आगामी मानसून सत्र के दौरान सचिवालय द्वारा जारी अधिकारी दीर्घा पास, स्थापना पास तथा प्रैस संवाददाताओं को जारी किए पास प्रमुखता से प्रदर्शित किए जाएंगे, ताकि सुरक्षा कर्मियों द्वारा फ्रिस्किंग की कम से कम आवश्यकता रहे। यह भी निर्णय लिया गया कि विधान सभा सचिवालय की ओर से जारी पार्किंग स्टिकर्ज वाहन के आगे प्रमुखता से प्रदर्शित किए जाएंगे, ताकि धारकों को  कम से कम असुविधा का सामना करना पडे़।

विधानसभा परिसर में जांची तैयारियां

बैठक के उपरांत डा. बिंदल ने विधानसभा परिसर  का दौरा किया तथा सत्र के दृष्टिगत चल रही  तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने पत्रकार दीर्घा  का भी दौरा किया तथा उनकी सुविधा हेतु समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने का आदेश दिया। साथ ही इलेक्ट्रॉनिक मिडिया के लिए आबंटित कक्ष में अतिरिक्त कम्प्यूटर तुरंत लगवाने के आदेश भी जारी किए।