Monday, September 23, 2019 02:23 AM

पेट से निकाली 10 किलो की रसौली

खनेरी अस्पताल के डाक्टरों ने मरीज को दिया जीवनदान

रामपुर बुशहर - रामपुर के महात्मा गांधी चिकित्सा परिसर खनेरी में डाक्टरों ने कुछ ऐसा करिश्मा कर दिखाया, जिसे देखकर हर कोई दंग है। इस अस्पताल में एक महिला मरीज गुड्डी देवी (42 वर्षीय) से 10 किलो रसौली निकाल कर उसे नया जीवनदान दिया गया। यह जीवनदान यहां पर तैनात डा. दिनेश शर्मा (स्त्रीरोग विशेषज्ञ), डा. संजय (सर्जन), डा. सतीश नेगी एनेस्थीसियास्ट, जीआर चौहान, प्रतिभा और मंजु की टीम ने दिया। अब महिला इस भयंकर बीमारी से निजात पाकर स्वास्थ लाभ ले रही है। डाक्टरों की टीम ने कहा कि यह जो रसौली निकाली गई है, इसे ओवरी ट्युमर भी कहा जाता है। जिस तरह से यह फैल रहा था, वह कैंसर के लक्षण भी दर्शाता है। रामपुर अस्पताल में यह पहली तरह का आपरेशन है। इसमें मरीज को डाक्टरों की टीम ने नया जीवनदान दिया है। चिकित्सक ने कहा कि आपरेशन के दौरान गर्भाशय व ओवरीज को निकाल दिया गया। इसकी जांच के दौरान इसमें ट्यूमर पाया गया। उन्होंने कहा कि यह यूटराइन सारकोमा भी हो सकता है। आपरेशन से जो भी अवशेष निकाला गया है, उसका वजन दस किलो के करीब है। डा. दिनेश ने कहा कि महिला पिछले चार वर्षों से पेट दर्द की शिकायत से परेशान थी, लेकिन कुछ दिनों से इसे काफी दर्द होने लगा। इस तरह की रसोली के मामले बहुत कम होते हैं। खनेरी अस्पताल के स्त्रीरोग विशेषज्ञ डा. दिनेश शर्मा ने बताया कि एक महिला मरीज से 10 किलो रसोली निकाली गई है। अब महिला स्वस्थ लाभ ले रही है।