Tuesday, July 14, 2020 11:10 PM

पोलिक्लीनिक बिलासपुर में लॉकडाउन में भी मरीजों का इलाज

घुमारवीं-भूतपूर्व सैनिकों व उनके आश्रित परिवारों के लिए ईसीएचएस पोलिक्लीनिक बिलासपुर के कर्मचारी संकट की इस घड़ी में कोरोना योद्धा की ड्यूटी निभा रहे हैं। ईसीएचएस पोलिक्लीनिक वैश्विक महामारी कोराना वायरस कोविड-19 के कारण 24 मार्च से लगे लॉकडाउन के बाद पूर्व सैनिकों व उनसे जुड़े परिवारों को निरंतर ओपीडी उपलब्ध करवा रहा है। इससे ईसीएचएस पोलिक्लीनिक से जुड़े हजारों पूर्व सैनिकों व उनके आश्रित परिवारों की बीमारी से संबंधित हर समस्या का समाधान किया जा रहा है। आफिसर इंचार्ज ग्रुप कैप्टन आरएस राजपूत (सेवानिवृत्त) ने बताया कि ईसीएचएस पोलीक्लीनिक बिलासपुर में तीन चिकित्सक डा. जीडी जस्सल, डा. सविता मेहता तथा दंत चिकित्सक डा. प्रजेश पटियाल के अलावा नायब सुबेदार विनय कुमार वर्मा, हवलदार भूपेश्वर, हवलदार राजेंद्र, नायक लाल सिंह, मृदुला, सुनीता देवी, कृष्ण लाल तथा अनीश कुमार लगातार सेवाएं प्रदान कर रहे हैं। इससे यहां पर इलाज के लिए आने वाले पूर्व सैनिकों व उनसे जुड़े परिवारों को कोई दिक्कत न हो। ग्रुप कैप्टन आरएस राजपूत ने ईसीएचएस पोलीक्लीनिक में आने वाले भूतपूर्व सैनिकों से आग्रह किया है कि उचित दूर बनाये रखें। पोलीक्लीनिक में प्रवेश करते ही सबसे पहले सेनेटाइजर का इस्तेमाल करें। भीड़ से बचने के लिए टेलीफोन पर ओपीडी के लिए नियुक्ति लेने की सुविधा प्रदान की है। उन्होंने कहा कि यदि गंभीर बीमारी हो, तभी घर से बाहर निकलें। फोन नंबर 62833-63830 पर एमएच जालंधर से टेली कान्फ्रेंस व वीडियो कॉलिंग के माध्यम से विशेषज्ञ से सलाह ली जा सकती है। 31 मई तक खरीदी गई दवाइयों के दस्तावेज 15 जून तक ईसीएचएस पोलिक्लीनिक में जमा करवाएं। जिन्हें डाक तथा ई-मेल के माध्यम से भी भेजा जा सकता है। वहीं, आफिसर इंचार्ज, ईसीएचएस पोलिक्लीनिक ग्रुप कैप्टन आरएस राजपूत (सेवानिवृत्त) ने कहा कि ईसीएचएस पोलिक्लीनिक बिलासपुर कोरोना वायरस के कारण 24 मार्च से लॉकडाउन से अब तक निरंतर अपनी सेवाएं भूतपूर्व सैनिकों एवं उनके परिवार को प्रदान करता आ रहा है। यहां कार्यरत सभी कर्मचारी निडरता से कोराना योद्धा की ड््यूटी निभा रहे हैं। इसके लिए कुछ दिशा-निर्देश भी जारी किये हैं। इनकी पालना करना जरुरी है।

The post पोलिक्लीनिक बिलासपुर में लॉकडाउन में भी मरीजों का इलाज appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.