Wednesday, August 12, 2020 06:48 AM

प्याज के ज्यादा दाम वसूले, तो फंसोगे

दाम पर नियंत्रण को अधिसूचना जारी, पांच-24 फीसदी रहेंगी लाभांश दरें

मंडी -प्याज की कीमतों और विक्रेताओं द्वारा की जा रही मुनाफाखोरी को रोकने के लिए सरकार ने दामों पर नियंत्रण के लिए अधिसूचना जारी कर दी है, जिसके बाद अब प्याज के दामों पर विक्रेता अधिक मुनाफा नहीं वसूल सकेंगेे। अधिसूचना केमुताबिक थोक व परचून विके्रताओं के लिए अधिकतम लाभांश दरें तय की गई हैं। गौरतलब है कि हिमाचल सरकार ने प्याज की कीमतों पर नियंत्रण के लिए हाल ही में अधिसूचना जारी की थी, जिसके अनुसार प्याज के मामले में अगले दो माह के लिए प्रदेश जमाखोरी एवं मुनाफाखोरी उन्मूलन आदेश, 1977 के प्रावधानों को लागू करने को कहा गया था। जिला दंडाधिकारी ऋ ग्वेद ठाकुर ने बुधवार को अधिसूचना जारी करते हुए जिला में थोक विके्रताओं के लिए प्याज की लाभांश दरें 5 प्रतिशत तथा परचून की 24 प्रतिशत (जिसमें परिवहन भाड़ा, चढ़ाना, उतारना व अन्य खर्च  शामिल हैं) निर्धारित की हैं। अधिसूचना के मुताबिक कोई भी थोक या परचून व्यापारी प्याज पर इससे अधिक लाभांश नहीं ले पाएगा। व्यापारियों को इसके खरीद वाउचर अपने पास रखना अनिवार्य होगा। सभी व्यापारियों से आह्वान किया गया है कि वे इन प्रावधानों का पालन करना सुनिश्चित करें। इसका उल्लंघन करने पर आवश्यक वस्तु अधिनियम, 1955 के प्रावधानों के तहत नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

ज्यादा वसूली पर इन नंबरों पर करें शिकायत

प्याज की कीमत से संबंधित शिकायत के लिए इन नंबरों पर करें संपर्क

ऋग्वेद ठाकुर ने उपभोक्ताओं से अपील है कि यदि उन्हें प्याज की कीमतों से संबंधित किसी भी तरह की शिकायत हो तो वे खाद्य आपूर्ति विभाग मंडी के दूरभाष नंबर-01905-222197 के अलावा संबंधित निरीक्षकों के मोबाइल नंबरों पर भी संपर्क कर सकते हैं, जिसमें सदर विकास खण्ड में खाद्य निरीक्षक परस राम से 98166-63692, सुंदरनगर में राम स्वरूप से 94184-81968, बल्ह में सुनित बाला से 94181-82252, गोहर में लेख राम से 98571-66115, करसोग में  जगत राम से 98073-84496, सराज में विकास कुमार से 94597-67708, सरकाघाट में पंकज शर्मा से 94189-77784, धर्मपुर में देसराज से 94182-04170, द्रंग स्थित पधर में मनोज चौहान से 70187-36291 और चौंतड़ा स्थित जोगिंद्रनगर में कर्म चंद पुरी से उनके मोबाइल नंबर 83509-52150 पर संपर्क किया जा सकता है।