Thursday, November 14, 2019 02:17 PM

प्याज पर महंगाई की मार…@ 85

आवक कम होने से बढ़े दाम; रसोई का बजट बिगड़ा, खरीदने से परहेज करने लगे लोग

शिमला - राजधानी की सब्जी मंडी में इन दिनों प्याज के दामों में आए दिन बढ़ोतरी देखी जा रही है। ऐसे में आम लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। प्याज की आवक कम होने से 10 रुपए प्रति किलो महंगा हो गया है। शिमला सब्जी मंडी में प्याज 70 रुपए के पार चला गया है। शिमला के उपनगरों में तो प्याज 75-80 रुपए और इससे भी ज्यादा महंगा मिल रहा है। इससे साफ  है कि महिलाओं की रसोई पर भी फर्क पड़ेगा। महिलाओं के रसोई घरों में सबसे ज्यादा उपयोग में आना वाला प्याज एक बार फिर महंगा हो गया है। इसके चलते यह रसोई से गायब होने लगा है। हिमाचल प्रदेश की मंडियों में प्याज की आवक कम होने से प्याज 10 रुपए प्रति किलो महंगा हो गया है। बता दें कि शिमला सब्जी मंडी में दो दिन पहले प्याज 70 रुपए के पार चला गया है। यहां लंबे समय से प्याज 60 रुपए प्रति किलो मिल रहा था, लेकिन अचानक से प्याज के दाम में 10 रुपए का एक मुश्त इजाफा हो गया है। शिमला के उपनगरों में तो प्याज 75-80 रुपए और इससे भी ज्यादा महंगा मिल रहा है। गुरुवार को शिमला की सब्जीमंडी में प्याज 85 रुपये हो गया था। ऐसे में खरीददारी कर रही महिलाआें ने बताया कि प्याज के दामों में आई बढ़ोतरी से प्याज खरीददने में परहेज ही कर रही हैं। वहीं आम लोग तो प्याज की खरीददारी से साफ परहेज कर रहे हैं। आम लोगों का तर्क है कि जब प्याज ही इतना महंगा मिल रहा है तो क्या खाएंगे और क्या बचाएंगे। आए दिन प्याज के दामों में हो रही बढ़ोतरी से साफ तौर पर महंगाई की मार देखी जा रही है, जिससे गरीब लोग काफी परेशान हैं। शिमला सब्जीमंडी के प्रधान विशेश्वर नाथ ने बताया कि इन दिनों प्याज के दामों में बढ़ोतरी का सबसे बड़ा कारण यह देखा जा रहा है कि बरसात के कारण प्याज की अधिकतर फसल तबाह हो गई थी। ऐसे में इस बार प्याज की फसल हर साल के मुताबिक कम हुई है। प्याज की फसल तो कम है लेकिन प्याज की डिमांड अधिक है। साथ ही मैदानी क्षेत्रों में प्याज की डिमांड अधिक देखी जा रही है। प्याज की आमद कम होने से ही प्याज के दामों में बढ़ोतरी हुई है। उम्मीद जताई जा रही है कि आने वाले दिनों में प्याज के दामों में और बढ़ोतरी हो सकती है।

दामों में आई बढ़ोतरी से आ रही दिक्कत

मीरा

शिमला की सब्जी मंडी में प्याज के दामों में हुई बढ़ोतरी से घर खर्च पर भी प्रभाव पड़ा है। जब प्याज 85 रुपए बढ़ गया है तो ऐसे में प्याज खरीदने के लिए सोचना पड़ रहा है। हैरानी की बात तो यह है कि प्याज के दामों में आए दिन बढ़ोतरी हो रही है, लेकिन सरकार ने इस पर कोई कदम नहीं उठाया है। प्याज के दामों में आई बढ़ोतरी से सीधा-सीधा असर केवल आम लोगों पर पड़ रहा है। यदि प्याज ही इतना महंगा हो जाएगा तो एक आम आदमी क्या खाएगा और क्या बचाएगा। सरकार को चाहिए कि इसके लिए जल्द से जल्द कोई कदम उठाए और बढ़ती महंगाई पर लगाम लगाए।

बढ़ते दामों पर रोक लगाने की उठाई मांग

दीपा

प्याज के दामों में आई बढ़ोतरी के कारण प्याज नहीं खरीद रही हैं। उन्होंने बताया कि यदि प्याज 85 रुपए में खरीदेंगे तो और सब्जी क्या खरीदेंगे। बढ़ती महंगाई ने आम लोगों को काफी परेशानी में डाल दिया है। ऐसे में लोग या तो प्याज ही खरीद पाएंगे या फिर सब्जी। प्याज के दामों में बढ़ोतरी होने पर सरकार ने कोई राहत भरा कदम नहीं उठाया है ऐसे में आम लोगों को काफी परेशानी हो रही है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि जल्द से जल्द प्याज की बढ़ती कीमतों पर लगाम लगाने के लिए उचित कदम उठाए, जिससे आम आदमी को राहत मिल सके।

घर खर्च पर बुरा असर

रितु

शहर में प्याज के दामों में आई बढ़ोतरी से आम लोगों को काफी परेशानी हो रही है। प्याज के दामों में इन दिनों अधिक बढ़ोतरी से प्याज खरीदने से परहेज कर रहे हैं।  प्याज के साथ-साथ सब्जियों के दामों में भी बढ़ोत्तरी हुई है। इससे साफतौर पर घर खर्च पर असर पड़ा है।

बढ़ते रेट से आम लोगों की जेब ढ़ीली

कमलेश

शहर में इन दिनों प्याज के दामों में जो बढ़ोतरी हुई है उसने आम आदमी की जेब ही हिला दी है। प्याज की बढ़ती कीमतों के कारण घर खर्च पर भी असर पड़ रहा है।  महंगाई दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। हैरानी की बात तो यह है कि एक तरफ प्याज के दामों में बढ़ोतरी हुई है और इससे महंगाई बढ़ती जा रही है, लेकिन सरकार इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रही है, जिससे आम लोगों पर महंगाई की मार साफ देखी जा रही है। प्याज इतना महंगा बिक रहा है। उन्होंने प्याज के दामों में आई बढ़ोतरी को कम करने के लिए सरकार से मांग की है।

प्याज की खरीददारी हुई कम, दुकानदार तंग

शहर में प्याज के दामों में हुई लगातार बढ़ोतरी से सब्जी विक्रेताओं की खरीददारी पर भी प्रभाव पड़ा है। इन दिनों सब्जीमंडी में प्याज कम पहुंच रहा है। जितना पहुंच रहा है उसकी खरीददारी बहुत कम हो रही है। ऐसे में सब्जी विक्रेताओं को काफी हानि हो रही है। दुकानदारों का कहना है कि लोग प्याज के दाम सुन कर ही खरीदने से मना कर रहे हैं। इन दिनों प्याज के आर्डर में भी कमी आ रही है। जितना प्याज मंडी में आया है वह भी पूरा नहीं बिक रहा है। ऐसे में दुकानदारों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

लोगों के माथे पर चिंता की लकीर

महंगे प्याज ने लोगों के माथे पर चिंता की लकीर खींच दी है। ऐसे में अब उपभोक्ता कम मात्रा में प्याज खरीदने को मजबूर हो रहे हैं। लोग केंद्र और प्रदेश सरकार से प्याज के दाम नियंत्रित करने की गुहार लगा रहे हैं। सब्जी मंडी में सब्जियां खरीदने आए लोगों का मानना है कि आम जनमानस का जीना दुभर हो रहा है। हालांकि इस समय सभी सब्जियों के भाव काफी बढ़ गए हैं, लेकिन प्याज का महंगा होना सभी को अखर रहा है। लोगों का मानना है कि प्याज के बिना कोई सब्जी नहीं बनती, ऐसे में प्याज के बिना गुजारा करना बेहद मुश्किल है।