Thursday, July 16, 2020 10:37 PM

प्रदेश में मंदिरों को खोलने की पैरवी

पूर्व परिवहन मंत्री जीएस बाली बोले, भक्तों की आस्था को देख खोलें कपाट

 कांगड़ा पूर्व परिवहन मंत्री जीएस बाली ने हिमाचल प्रदेश के मंदिरों को भक्तों  के लिए खोलने की पैरवी की है । यहां आयोजित पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि इन मंदिरों के प्रति लोगों की गहरी श्रद्धा और आस्था है और यह मंदिर जनता के लिए खोल देने चाहिए । उनका कहना है कि व्यवस्थित ढंग से कंट्रोल किया जा सकता है । उन्होंने कहा इसके लिए व्यवस्था बनाना सरकारी तंत्र की जिम्मेदारी है । श्री बाली ने कहा पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने व्यवस्था पर जो सवाल उठाए हैं। उसे सोशल मीडिया के बजाय प्रधानमंत्री के समक्ष उठाया जाना चाहिए । उन्होंने कहा शांता कुमार ने पत्र में से साफहो गया है कि स्वास्थ्य निदेशालय के घोटाले में बड़ी मछलियों का हाथ हो सकता है और इसका नुकसान सत्तारूढ़ पार्टी को होगा। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य निदेशालय का स्केंडल सार्वजनिक हुआ है, जबकि हिमाचल प्रदेश में घोटालों की फेहरिस्त लंबी है। श्री बाली ने कहा केंद्रीय विश्वविद्यालय में नियुक्तियों में भारी गड़बड़झाला है, उसके दस्तावेज उनके पास मौजूद हैं। उन्होंने बताया कि भाजपा विचारधारा के लोग उच्च पदों पर आसीन किए जा रहे हैं, जो घातक है। इसे लेकर कांग्रेस पार्टी कानूनी शिकंजा कसने की तैयारी में है। श्री बाली ने कहा कि सामान्य परिस्थितियों में मेडिकल सुविधा हास्पिटलों में न मिलना यह लोगों के साथ घोर अन्याय है। उन्होंने बताया कि यह स्वास्थ्य विभाग के  गलत प्रबंधन का नतीजा है  और स्वास्थ्य मंत्रालय को स्वयं मुख्यमंत्री देख रहे हैं । लिहाजा वह अपनी जिम्मेदारी से बच नहीं सकते । ऐसे में कई लोग मौत का शिकार भी हुए हैं । उन्होंने कहा कि सैनिकों के लिए क्वारंटाइन की अलग से व्यवस्था बनाई जाए।

The post प्रदेश में मंदिरों को खोलने की पैरवी appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.