Tuesday, November 19, 2019 03:20 AM

प्रदेश सरकार पर बोला हल्ला

रिकांगपिओ में कांग्रेस ने रैली निकाल कर घेरी प्रदेश सरकार, किन्नौर जिला की अनदेखी के जडे़ आरोप

रिकांगपिओ   -किन्नौर के साथ हो रही अनदेखी को लेकर सोमवार को किन्नौर कांग्रेस के सैंकड़ो कार्यकर्ताओं ने रिकांगपिओ में प्रदेश सरकार के खिलाफ  जनआक्रोश रैली निकाली। विरोध रैली विश्राम गृह रिकांगपिओ से शुरू होते हुए पीएनबी बैंक से वापस होते हुए रिकांगपिओ चौक पहुंची। रैली रिकांगपिओ चौक में जनसभा में तबदील हुई। विधायक किन्नौर एवं पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष जगत सिंह नेगी ने जनसभा को संबोधित करते हुए प्रदेश भाजपा सरकार पर जनजातीय क्षेत्रों के साथ सौतेला व्यवहार लगाने का आरोप लगाया। नेगी ने कहा कि प्रदेश सरकार का दो वर्ष का कार्यकाल बीतने को है अब तक जनजातीय सलाहकार परिषद की बैठक तक नहीं करवा पाई है। इस से साफ  जाहिर होता है कि प्रदेश सरकार जनजतीय क्षेत्रों के विकास के प्रति कितनी गंभीर है। उन्होंने कहा कि जिला किन्नौर में सात हजार से अधिक नातोड़ के मामले लंबित है। लेकिन सरकार उस भी गंभीर नही है। पूर्व कांग्रेस सरकार ने 500 से अधिक लोगों के नातोड़ के मामले निपटाए गए थे वहीं भाजपा ने अब तक के कार्यकाल में नातोड़ का एक ही मामला निपटारा है जब कि नातोड़ का मामला जिला के लोगों का ज्वलंत मुद्दा है। सरकार एफआरए जैसे अहम मुद्दे ओर भी मोन है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जनजतीय क्षेत्रों किन्नौर, लाहुल स्पीति, पांगी भरमौर के विकास को दरकिनार कर अपने चुनाव क्षेत्र जंजैहली क्षेत्र को ही फोकस किए हुए है। प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने की लिए केंद्र से आए बजट को भी पर्यटन के प्रमुख स्थलों में व्यय न कर जंजैहली क्षेत्र में खर्च किया जा रहे है। इसी तरह भारत तिब्बत सीमांत क्षेत्रों में केंद्र सरकार से हर वर्ष मिलने वाले 25 करोड़ के राशि मे भी बजट में कटौती की गई है। नेगी ने कहा कि सरकार व प्रशासन जिला में निर्माणाधीन परियोजना के कंपनियों से प्रभावित क्षेत्रों के विकास के लिए मिलने वाली लाडा फंड भी नही ले पा रही है। जिस से किन्नौर में लाड़ा के तहत पंचायतों में चल रहे विकास कार्य भी ठप है। जिला के परियोजनाओं में स्थानीय लोगों को रोजगार नहीं दिया जा रहा है। नेगी ने कहा कि विकास के क्षेत्र में जिला पिछड़ता जा रहा है। पूर्व कांग्रेस के समय जिन कार्यों का बजट में प्रावधान रखा था उसे भी गति नहीं दी जा रही है। उन्होंने कहा कि जिला के स्वास्थ्य संस्थाओ में ब्रांडिड दवाइयां नहीं मिल रही हंै। नेगी ने कहा कि भाजपा प्रदेश में ऊपर व नीचे, सेब व संतरा बता कर खाई पैदा करती है जबकि कांग्रेस प्रदेश में एक समान विकास करती रही है। इस अवसर पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष उमेश नेगी ने भी विचार रखे। किन्नौर के विधायक जगत सिंह नेगी मुख्य मंत्री जयराम ठाकुर से नाराज दिखे। उन्होंने अपने भाषण में कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर का जब भी किन्नौर प्रवास पर होंगे  किन्नौर कांग्रेस के कार्यकर्ता सीएम को काले झंडे दिखा कर स्वागत करेगी। रैली के दौरान कार्यकर्ताओं को मुख्यमंत्री पर किन्नौर के साथ वादाखिलाफी का भी आरोप लगाया।