Monday, April 06, 2020 05:28 PM

प्रधान से लिखित में लाओ, कहां जा रहे

चौपाल-लगातार दूसरे दिन भी उपमंडल के दो बड़े बाजार चौपाल व नेरवा सहित ग्रामीण क्षेत्रों में दुकानें पूरी तरह से बंद रही। व्यापार मंडल चौपाल के अध्यक्ष राजेश चंदेल ने ‘दिव्य हिमाचल’ से हुई विशेष बातचीत में कहा कि कोरोना के खतरे को देखते हुए मंगलवार को भी चौपाल बाजार को पूर्ण रूप से बंद रखने का निर्णय लिया है। उधर, स्थानीय प्रशासन ने भी 31 मार्च तक चौपाल उपमंडल में सभी तरह के यातायात के साधनों, जिनमें सरकारी व निजी बसें, टैक्सी व निजी गाडि़यां शामिल है, हालांकि इसमें एंबुलेंस, प्रेस कार्यालय जाने वाले कर्मचारियों को छूट दी गई है। इसके अतिरिक्त खाद्य सामग्री के लिए जाने वाले लोगों को भी छूट दी है, लेकिन उन्हें स्थानीय प्रधान से लिख कर लाना होगा। प्रशासन के आदेश के बावजूद सोमवार को 12 बजे तक चौपाल-नेरवा मुख्य सड़क मार्ग पर रुक-रुककर गाडि़यां चलती रही, लेकिन बावजूद इसके एसडीएम चौपाल अनिल चौहान ने कडे़ आदेश जारी किए हैं कि यदि कोई भी गाड़ी बेवजह चलती दिखे तो इनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाए। एसडीएम चौपाल अनिल चौहान ने लोगों को आगाह किया है कि यदि जरूरी न हो तो घर से न निकलें। कोरोना से बचाव के लिए हर तरह की एहतियात बरते।