Friday, December 06, 2019 09:49 PM

प्राइमरी-अपर प्राइमरी सेक्शन से 40-40 अध्यापकों ने ली ट्रेनिंग

अर्की - निष्ठा के अंतर्गत खंड अर्की के प्राइमरी और अपर प्राइमरी अध्यापकों के लिए पांच दिवसीय कार्यशाला का समापन हुआ। इस कार्यशाला में प्राइमरी और अपर प्राइमरी सेक्शन से 40-40 अध्यापकों के ग्रुप ने बीआरसी सभागार व राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय (छात्र) अर्की में प्रशिक्षण प्राप्त किया। यह प्रशिक्षण 13  से 17 नवंबर तक चला। इस प्रशिक्षण के समन्वयक, खंड परियोजना अधिकारी डा. जगदीश चंद नेगी प्रधानाचार्य राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय अर्की रहे। उन्होंने कहा कि समग्र शिक्षा अभियान में निष्ठा के अंतर्गत  यह प्रशिक्षण विभिन्न विषयों की अध्यापन विधियों पर केंद्रित रहा। विभिन्न क्रियाकलापों के उपयोग के माध्यम से किस प्रकार पठन-पाठन कार्य को कक्षा में अधिक रोचक बनाया। यह प्रशिक्षण सभी प्रारंभिक अध्यापकों को करना अनिवार्य है। इस प्रशिक्षण में स्रोत व्यक्ति के रूप में विभिन्न विषय विशेषज्ञों ने भाग लिया, जिन्होंने अभी हाल ही में शिमला में एनसीआरटी  से प्रशिक्षण प्राप्त किया था। स्रोत व्यक्तियों में किरणबाला प्रवक्ता अंग्रेजी अर्की, डा. संजय, बबिता, मीना बरवाल, गोपाल शर्मा, अश्वनी डाइट सोलन, अनूप शर्मा प्रवक्ता सरयांज, ललित शर्मा मुख्याध्यापक सोलन रहे। इस पांच दिवसीय निष्ठा कार्यशाला में विभिन्न मॉड्यूल को स्रोत व्यक्तियों द्वारा क्रियाकलापों के माध्यम से समझाया गया, जिसमें-अध्यापन विधियां-हिंदी अंग्रेजी, गणित, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान, सीखने के प्रतिफल, विद्यालय आधारित आंकलन, पोक्सो एक्ट, नेतृत्व विकास, समावेशी शिक्षा, कला समेकित अध्यापन, समग्र शिक्षा अभियान द्वारा उठाए गए कदमों, विद्यालयों को विभिन्न प्रकार के दिए जा रहे अनुदानों पर गहनता से चर्चा हुई। इस प्रशिक्षण में उपस्थित अध्यापकों ने ऑनलाइन प्रीट्रेनिंग सर्वे व पोस्ट्रेनिंग सर्वे भी भरा। समन्वयक डा. जगदीश चंद नेगी ने कहा कि यह प्रशिक्षण शिविर बहुत ही सफल रहा और इसमें सभी अध्यापकों ने विभिन्न क्रियाकलापों में बखूबी भाग लिया।  निशिचित ही विद्यालय में विद्यार्थियों को इसका जरूर लाभ मिलेगा और गुणवत्ता शिक्षा को प्राप्त करने की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने बताया कि अगला प्रशिक्षण शिविर 19 नवंबर से 23 नवंबर तक आयोजित किया जाएगा। इस मौके पर बीआरसी अर्की लच्छी राम ठाकुर व देवेंद्र कौशिक भी उपस्थित रहे।