Sunday, January 26, 2020 12:19 AM

फुटपाथ पर हरगिज नहीं दिखनी चाहिए दुकानदारी

उपायुक्त ने नगर परिषद के अधिकारियों को दिए आदेश

हमीरपुर - हमीरपुर शहर में अवैध कब्जों के कारण हो रही सड़क दुर्घटनाओं पर डीसी हमीरपुर ने कड़ा संज्ञान लिया है। मंडे मीटिंग में उन्होंने नगर परिषद अधिकारियों को निर्देश दिए कि भविष्य में इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए समय रहते सभी आवश्यक कदम उठाए जाएं। उन्होंने यह भी निर्देश दिए हैं कि नगर परिषद अपने आय के संसाधन बढ़ाने पर विशेष ध्यान दें, ताकि कूड़े-कचरे के निस्तारण सहित अन्य मदों पर होने वाले व्यय व नगर परिषद की आय में एकरूपता लाई जा सके। उन्होंने स्लॉटर हाउस के लिए भूमि चिह्नित कर एक सप्ताह में इसका प्रतिवेदन प्रस्तुत करने को भी कहा। बता दें कि शनिवार को हमीरपुर शहर में एक महिला उस वक्त वाहन की टक्कर से घायल हो गई थी, जब फुटपाथ पर सामान होने के कारण वह मजबूरीवश सड़क में पैदल जा रही थी और वाहन ने उसे टक्कर मार दी। इस घटना की सूचना मिलने के बाद शनिवार को जिला प्रशासन ने तहबाजारियां हटाने के लिए अभियान भी चलाया था। डीसी ने कहा कि शहर में रेहड़ी-फड़ी धारकों की समस्याओं के हल के लिए वेंडिंग कमेटी की बैठक शीघ्र आयोजित की जाएगी। इसमें वर्तमान व्यवस्था की समीक्षा कर उन्हें स्थायी पहचान दिलाने के लिए सुझाव भी लिए जाएंगे। उन्होंने शहर में शौचालयों के रखरखाव पर विशेष ध्यान देने के भी निर्देश दिए। बैठक में कृषि, पशुपालन, कल्याण विभाग, खनन, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति सहित विभिन्न विभागों से जुड़ी मदों पर भी चर्चा की गई। उन्होंने कहा कि हमीरपुर जिला में रेडक्रास सोसायटी की गतिविधियां बढ़ाने पर भी बल दिया जा रहा है, ताकि पीडि़तों व असहायों की सहायता के लिए अधिक से अधिक राशि जुटाई जा सके। इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त रतन गौत्तम, अतिरिक्क्त पुलिस अधीक्षक विजय सकलानी, सहायक आयुक्त राजकिशन, उपमंडलाधिकारी डा. चिरंजी लाल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।