Saturday, January 25, 2020 11:35 PM

फुटपाथ…फिर बन गए शिकार

हमीरपुर - खोखाधारकों ने नालियों व फुटपाथ पर दोबारा अतिक्रमण शुरू कर दिया है। ऐसे में झ्र राहगीरों को मजबूरन सड़क से ही गुजरना पड़ रहा है, जोकि कभी भी हादसे का शिकार हो सकते हैं। हालांकि जिला प्रशासन ने खोखाधारकों को स त चेतावनी दी थी कि अगर दोबारा अतिक्रमण करते हुए पकड़े गए, तो उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। फिर भी खोखाधारक अतिक्रमण करने से पीछे नहीं हट रहे हैं। बता दें कि बस अड्डा हमीरपुर के बाहर स्थित कुछेक खोखाधारकों व दुकानदारों ने नालियों व फुटपाथ पर दोबारा सामान रख दिया है। ऐसे में राहगीर सड़क पर चलने को मजबूर हैं। सबसे ज्यादा दिक्कत बुजुर्गों व स्कूली छात्रों को झेलनी पड़ रही है। हालांकि बीते शनिवार को भी खोखाधारकों के अतिक्रमण से एक महिला घायल हो गई थी। सड़क किनारे चल रही महिला को कार ने टक्कर मार दी थी, जिसे उपायुक्त हमीरपुर व पुलिस अधीक्षक हमीरपुर की सहायता से हमीरपुर अस्पताल ईलाज के लिए भेजा गया था। उपायुक्त हमीरपुर ने उसी समय खोखाधारकों द्वारा किए जा रहे अतिक्रमण पर कार्यवाही करने के आदेश दिए थे। उसके उपरांत ही तहसीलदार हमीरपुर व नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी की अध्यक्षता में एक टीम ने पुलिस के साथ मिलकर अड्डा के बाहर से खोखाधारकों का अतिक्रमण हटाया था। इस कार्यवाही में करीब 15 खोखाधारकों का सामान भी जब्त किया गया था और कई खोखाधारकों व दुकानदारों को अतिक्रमण न करने की स त हिदायत भी दी गई थी। फिर भी खोखाधारक व दुकानदार बेखौफ अतिक्रमण करने में लगे हुए हैं। बताया जा रहा है कि जिला प्रशासन ने जब एक तरफ से अतिक्रमण पर कार्यवाही शुरू की थी, तो दूसरी तरफ के खोखाधारकों व दुकानदारों ने अतिक्रमण वाले सामान को अंदर समेट लिया था। ऐसे में वह कार्यवाही से बच गए थे। लोगों ने जिला प्रशासन से मांग की है कि आगे जब भी अतिक्रमण पर कार्यवाही की जाए, तो दोनों तरफ से एक साथ की जाए, ताकि ऐसे खोखाधारकों व दुकानदारों पर सख्त कार्रवाई हो सके।