Tuesday, November 30, 2021 09:31 AM

फूड सेफ्टी विभाग ने भरे दूध और दही के सैंपल

धौलरा रोड के पास नाका लगाकर की गाडिय़ों की चैकिंग

कार्यालय संवाददाता-बिलासपुर त्योहारी सीजन को लेकर फूड सेफ्टी विभाग पूरी तरह से सतर्क हो गया है। लगातार विभाग की ओर से दुकानों के निरीक्षण किए जा रहे हैं। वहीं, नाके भी लगाए जा रहे हैंं। इस दौरान दस्तावेज भी चैक किए जा रहे हैं। ताकि कोई भी दुकानदार त्योहारी सीजन में लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ न करे। गुरुवार सुबह के समय फूड सेफ्टी विभाग द्वारा शहर के धौलरा रोड के समीप नाका लगाया हुआ था।

इस दौरान खाद्य वस्तुएं लेकर जा रही गाडिय़ों की चैकिंग की गर्इं। इस दौरान दूध और दहीं के सैंपल एकत्रित किए गए। वहीं, इस दौरान एक जीप चालक विभागीय टीम को चकमा देकर फरार हो गया। जिसकी तलाश जारी है। वहीं, नाके के दौरान विभागीय टीम की ओर से सैंपल एकत्रित करने के बाद उन्हें कंडाघाट जांच लैब में जांच के लिए भेजा गया। फूड सेफ्टी विभाग बिलासपुर के सहायक आयुक्त महेश कश्यप ने बताया कि त्योहारी सीजन को लेकर अब प्रतिदिन जिला के विभिन्न स्थानों पर नाके लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस सीजन में बाहरी राज्यों से मिठाइयां यहां पर आती है। जिनकी गुणवत्ता ज्यादा सहीं नहीं होती है। ऐसे में मिठाइयों सहित खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता जांच करने के लिए यह नाके लगाए जा रहे हैं। ताकि खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता सहित सारी जांच पड़ताल की जा सके। महेश कश्यप ने बताया कि जिला भर के मिठाई दुकानों को सख्त आदेश दिए गए हैं कि मिठाई में किसी भी तरह की मिलावट व रंगों का प्रयोग न किए जाए। इसकी जांच के लिए एक मोबाइल वैन भी बिलासपुर में आएगी। जिसके माध्यम से सैंपल एकत्रित किए जाएंगे और कुछ समय के भीतर ही मिठाई सहित अन्य खाद्य पदार्थ के सैंपल की रिपोर्ट भी आ जाएगी। ऐसे में अगर कोई सैंपल फेल पाया जाता है तो मौके पर ही वह मिठाई फेंकवाने के लिए नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। बताते चलें कि इससे पहले भी विभाग ने जिला के विभिन्न स्थानों से सैंपल एकत्रित किए हैं।

जिनकी रिपोर्ट आना अभी तक बाकि है। वहीं, कुछ समय पहले ही जिला की कुछ दुकानों से भरे सैंपल की रिपोर्ट फेल पाई गई है। जिसके बाद दुकानदार सहित निर्माता कंपनी के खिलाफ जुर्माना सहित कार्रवाई अमल में लाई गई है। बिलासपुर फूड सेफ्टी विभाग के सहायक आयुक्त महेश कश्यप ने बताया कि सुबह तड़के ही नाका लगाया गया था। गाडिय़ां चैकिंग करने के बाद दूध और दहीं के सैंपल एकत्रित किए गए हैं। सैंपल को कंडाघाट जांच लैब में भेजा जा रहा है। रिपोर्ट आने के बाद नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। फेस्टिवल सीजन को लेकर विशेष टीम का गठन किया गया है,जो समय-समय पर दुकानों का निरीक्षण कर रही है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया है कि अगर उनके आसपास किसी भी दुकान में खाद्य पदार्थों में मिलावट की जा रही है तो तुरंत इसकी जानकारी विभाग को दें।