Tuesday, October 15, 2019 09:06 AM

फोरलेन प्रभावितों ने हक को बुलंद की आवाज

कुल्लू  -प्रदेश में फोरलेन से प्रभावित हुए लोगों की मांग को सरकार व संबंधित विभागों के उच्च अधिकारियों के समक्ष रखा जाएगा। वहीं, दशहरा उत्सव से पहले कुल्लू में एक उच्च स्तरीय बैठक का भी आयोजन किया जाएगा। इस बैठक की अध्यक्षता फोरलेन की सब कमेटी के चेयरमैन गोविंद सिंह ठाकुर द्वारा की जाएगी, ताकि जिला कुल्लू सहित प्रदेश के अन्य जिलों में फोरलेन बनने से पेश आ रही समस्याओं का निराकरण हो सके। कुल्लू में आयोजित फोरलेन संघर्ष समिति की बैठक को संबोधित करते हुए एक्स सर्विसमैन निगम के चेयरमैन खुशाल ठाकुर ने कहा कि फोरलेन संघर्ष समिति पिछले लंबे समय से अपने हितों की मांग को लेकर संघर्ष करती आ रही है और उन्होंने भी इस मुद्दे को सभी विभागों के अधिकारियों के समक्ष प्रमुखता से रखा है, लेकिन बार-बार हो रहे अधिकारियों के तबादलों के चलते भी यह समस्या पेश आ रही है। अधिकारियों के तबादले होने के चलते प्रभावितों की मांगों की फाइल दबकर रह जा रही है। खुशाल ठाकुर ने कहा कि ऐसे में अब उन्होंने निर्णय लिया है कि वह व्यक्तिगत तौर पर सभी जिला के डीसी व संबंधित विभागों के अधिकारियों संग बैठक करेंगे और केंद्र सरकार द्वारा चार गुना मुआवजा, पुनर्वास व उनकी व्यवस्था सहित अन्य मुद्दों को लेकर चर्चा करेंगे, ताकि जल्द से जल्द प्रभावितों को उनका हक मिल सके। वहीं, फोरलेन संघर्ष समिति के अध्यक्ष ब्रजेश महंत ने कहा कि प्रशासन व तत्कालीन सरकार की असंवेदनहीनता के चलते जल्द ही फोरलेन संघर्ष समिति के बैनर तले इसने एक आंदोलन का रूप ले लिया व जल्द ही इसका दायरा पूरे प्रदेश में फैल गया। पूरे प्रदेश में फोरलेन ही नहीं, बल्कि अन्य किसी भी प्रकार के भू-अधिग्रहण से प्रभावित ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर के बैनर तले अपनी आवाज बुलंद करने लगे। फोरलेन संघर्ष समिति 2015 से ही सरकार के आगे चार गुना मुआवजा, पुनर्स्थापन व पुनर्वास सहित अन्य मुद्दों पर अपने पक्ष को रखती आ रही है। उन्होंने कहा कि बैठक में फोरलेन के मुद्दों पर हुई प्रगति व भविष्य की योजनाओं पर मंथन करके आगामी रणनीति तय की गई। साथ ही इस आंदोलन को शूरू करने व वर्तमान स्थितियों पर पहुंचाने के लिए ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर का धन्यवाद करते हुए उन्हें उनकी सेवाओं के लिए सम्मानित  भी किया गया।