Wednesday, April 24, 2019 05:23 AM

बच्चों को ज्यादा न खिलाएं नमक

बच्चों को ज्यादा न खिलाएं नमक वाली चीजें, किडनी पर डालता है बुरा असर।

* तीव्र गति से बच्चों के पोषण में कमी आई है।

* इसके पीछे कहीं न कहीं बच्चों के माता-पिता ही जिम्मेदार हैं

* अकसर बच्चों को हानिकारक फूड की आदत पेरेंट्स ही लगाते हैं।

जितनी तेजी से वयस्कों का खानपान बिगड़ा है उतनी ही तीव्र गति से बच्चों के भी पोषण में कमी आई है। इसके पीछे कहीं न कहीं बच्चों के माता-पिता ही जिम्मेदार हैं, क्योंकि अकसर बच्चों को हानिकारक फूड की आदत पेरेंट्स ही लगाते हैं। जब बच्चे परेशान कर रहे होते हैं तो देखा गया है कि उनके पेरेंट्स उन्हें चिप्स, कुरकुरे, फ्रेंच फाइज, नमकीन और अन्य ऐसी कई नमकयुक्त चीजें दे कर उन्हें चुप करा देते हैं और थोड़े दिन बाद बच्चे को इन हानिकारक फूड्स की आदत लग जाती है। फिर वह ऐसी चीजों को देखते ही रोने लगते हैं। अगर आप भी अपने बच्चों के साथ कुछ ऐसी ही गलती दोहरा रहे हैं तो ये आपके बच्चे और पूरे परिवार के लिए हानिकारक हो सकते हैं। बच्चों को अत्यधिक नमक या नमक वाली चीजें देना उनके लिए खतरे से कम नहीं है। यह उनकी सेहत तो बिगाड़ता ही है साथ ही उनमें कई जानलेवा बीमारियों का कारण भी बन सकता है।

अध्ययन के मुताबिक

सर्वे के अनुसार, एक साल के अंदर के बच्चे को रोजाना 1 ग्राम से ज्यादा नमक नहीं खाना चाहिए। इसी तरह से 1-3 साल के बच्चे के लिए 2 ग्राम प्रति दिन और उससे ज्याद की उम्र तक के लिए 3 ग्राम नमक खाना सही होता है। 7-10 साल तक के बच्चे के लिए 5 ग्राम नमक पर्याप्त होता है, उन्हें उससे ज्यादा नमक नहीं खाना चाहिए।

बच्चों के लिए क्या है सबसे ज्यादा जरूरी

ब्रेस्ट मिल्क में ही इतना सोडियम होता है कि वह बच्चे के शरीर में नमक की पूर्ति आराम से कर देगा। आजकल बाजार में जितने भी पैकेट बंद आहार मिलते हैं, उनमें भारी मात्रा में सोडियम पाया जाता है। इसलिए अपने बच्चे की डाइट में केवल हरी साग-सब्जियां, फल और मेवों के अलावा और कुछ न शामिल करें।

किडनी खराब होने का खतरा

बच्चों के लिए ज्यादा नमक का सेवन करना हानिकारक हो सकता है। क्योंकि अगर आपने बच्चे को अधिक नमक खिला दिया तो इसके शरीर में सोडियम की मात्रा अधिक हो जाएगी। कभी कभार किडनियां हमारे शरीर में सोडियम की मात्रा को बैलेंस नहीं कर पाती, जिससे क्रोनिक किडनी की बीमारी हो जाती है। इसके अलावा ज्यादा नमक खाने से किडनी में पथरी की संभावना काफी बढ़ जाती है।