Tuesday, September 25, 2018 12:41 PM

बरसात में आंखों की देखभाल

बरसात के दिनों में आंखों की अतिरिक्त देखभाल की आवश्यकता होती है, क्योंकि यही समय होता है जब नमी के कारण बैक्टीरिया पूरी तरह से हमला करते हैं। उनके लिए यह समय अनुकूल होता है। इस मौसम में आंखों में होने वाली समस्या कई बार गंभीर रूप ले लेती है, इसलिए जरूरी है कि इन दिनों अपनी आंखों का खास ख्याल रखें। आंखों की समस्याओं को रोकने के लिए कुछ टिप्स पर ध्यान देने की जरूरत है। इसमें आपकी निजी स्वच्छता भी शामिल है। आइए जानते हैं बरसात के मौसम में आंखों का ख्याल कैसे रखें।

साफ -सफाई का ख्याल रखें-

बरसात के मौसम में बार-बार आंखों में अंगुली डालकर न खुजलाएं। इसके लिए किसी साफ  साफट कपड़े का प्रयोग करें। अपने कांटेक्ट लेंस का प्रयोग भी हमेशा उन्हें क्लीन करके ही करें। अगर चश्मे को क्लीन करना है, तो लोशन का प्रयोग करें। इसके अलावा अगर इस दौरान आपको कहीं बाहर जाना पड़े, तो चश्मा पहन कर ही घर से बाहर निकलें।

आंखों का ध्यान रखें-

 अगर आप बहुत देर तक कम्प्यूटर पर काम करते हैं, तो थोड़़ी-थोड़ी देर में अपनी आंखों में पानी के छींटे लगाएं। अपनी आंखों को बहुत तेजी से मलें नहीं अगर उनमें खुजली हो रही है, तो आई ड्रॉप का प्रयोग करें। काम के दौरान थोड़ी-थोड़ी देर बाद अपनी पलकों को झपकाते रहें ताकि आंखों में सूखेपन की समस्या न हो और नमी बनी रहे।

जलजनित क्षेत्रों से बचें-

 जिन स्थानों पर पानी भरा है, उन स्थानों पर जितना हो सके जाना टाल दें, क्योंकि वहां बहुत सारे बैक्टीरिया फंगल, वायरस होते हैं, जो न सिर्फ  आपकी आंखों को बल्कि सेहत को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं।

बरसात की बीमारियां-

बरसात के मौसम में हमारी आंखों में अकसर कंजक्टिवाइटिस या आमतौर पर फ्लू  होने का खतरा रहता है इसलिए अगर आप इनमें से किसी भी बीमारी से पीडि़त हैं, तो तुरंत इसका सही इलाज करें।  ऐसे में आंखों में जलन होने के साथ-साथ आंखें लाल भी हो जाती है, लेकिन अगर सही तरीके से देखभाल की जाए, तो इस समस्या से बचा जा सकता है।

कार्नियल संक्रमण-

बहुत गंभीर किस्म का संक्रमण होता है, इसमें लापरवाही से अंधेपन की शिकायत भी सकती है। इसमें आंखों में बहुत ज्यादा दर्द होता है और आंखों से मवाद भी निकलता है। इसमें आंखों की रोशनी भी धुंधली हो जाती है इसलिए तुरंत डाक्टर को दिखाएं।

ब्लेफेराइटिस संक्रमण-

 एक प्रकार की आंखों की सूजन है, जो आंखों की पलकों को ज्यादा प्रभावित करती है। इसकी वजह से आंखों में खुजली और जलन रहती है।

आंख में मिट्टी चली जाए तो-

बरसात में तेज हवा के साथ धूल- मिट्टी के कण और गंदगी आंख में चली जाती है, ऐसे में आंखों को तुरंत ठंडे पानी से लगातार धोएं। इसके बाद अगर कुछ आराम न मिले, तो आई ड्रॉप का प्रयोग करें और अपने डाक्टर से संपर्क करें।

मेकअप करते समय ध्यान दें-

 बारिश के मौसम में आई मेकअप का सामान ज्यादा जल्दी खराब हो जाता है। इसलिए लगाने से एक बार आई मेकअप को अवश्य चेक कर लें। इस मौसम में आई लाइनर, मस्कारा, काजल आदि वाटर पूफ्र  लगाएं। आई मेकअप को रात को उतार कर ही सोएं।

विटामिन का सेवन करें-

 अपने भोजन में विटामिन ए, ई, सी को जरूर शामिल करें, क्योंकि इस मासैम में यह आंखों को स्वस्थ व बीमारियों से बचाने में मददगार होते हैं। अगर आप कहीं बाहर गए हैं और अचानक से बारिश हो जाए, तो बरसात के पानी को आंखों में जाने से बचाएं। अगर पानी चला जाए, तो आंखों को पोंछने के लिए रूमाल की जगह टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करें।