Tuesday, October 15, 2019 03:16 PM

बहाल हुआ रोहतांग दर्रा जोखिम अभी बरकरार

कुल्लू - बर्फबारी से बंद हुआ रोहतांग दर्रा मंगलवार को वाहनों के लिए बहाल हो गया। रोहतांग दर्रे में आधा फुट से अधिक बर्फबारी हुई है। दर्रे में राहनीनाला की अपेक्षा राक्षी ढांक की ओर बर्फबारी अधिक हुई है। हालांकि मनाली प्रशासन ने बीआरओ और स्थानीय युवाओं के सहयोग से रोहतांग दर्रे में फंसे 150 वाहनों को सोमवार को ही निकाल लिया था, लेकिन अधिकतर लोगों ने मनाली और कोकसर में ही शरण ले रखी थी। मंगलवार सुबह मौसम साफ होते ही दोनों ओर से 100 से अधिक वाहनों सहित एचआरटीसी की बसों ने रोहतांग दर्रे को आर-पार किया। मनाली से लाहुल गए अशोक, राजू और दीपक आदि ने बताया कि सड़क तो बहाल हो गई है, लेकिन सड़क किनारे बर्फ जम जाने से जोखिम बढ़ गया है। बीआरओ कमांडर कर्नल ऊमा शंकर ने बताया कि बीआरओ ने सड़क बहाल कर दी है। उन्होंने कहा कि मनाली-दारचा के बीच बीआरओ का सड़क निर्माण कार्य जारी है।