Thursday, December 12, 2019 03:02 PM

बाइपास शिफ्ट होगा सोलन अस्पताल

सोलन में बढ़ती जनसंख्या पर आयोजित संगोष्ठी में भाग लेने पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री ने दिए संकेत, कार्यक्रम में पूर्व केंद्रीय मंत्री शांता कुमार ने भी रखे विचार

सोलन -सोलन का क्षेत्रीय अस्पताल बाइपास में शिफ्ट होगा। स्वास्थ्य मंत्री ने इस बात के स्पष्ट संकेत दिए कि सोलन से कई प्रतिनिधिमंडल इस संदर्भ में उनसे मिल चुके हैं। सोलन जिला का सबसे बड़ा अस्पताल है तथा तंग सड़क व भवन की कमी के कारण इस अस्पताल में रोगियों व विशेषकर आपातकालीन परिस्थितियों में परेशानी होती है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि क्षेत्रीय अस्पताल को किसी खुले स्थान पर शिफ्ट किया जाएगा तथा इसके लिए राजस्व विभाग को उपयुक्त भूमि को चयन करके रिपोर्ट भेजने को कहा गया है। भूमि उपलब्ध होने पर शीघ्र ही वहां भवन का निर्माण कार्य शुरू होगा। स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार ने क्षेत्रीय अस्पताल में चिकित्सकों की कमी को बिलकुल नकार दिया है। वे सोलन में बढ़ती जनसंख्या-घटते संसाधन पर आयोजित संगोष्ठी में भाग लेने पहुंचे थे। इस संगोष्ठी में पूर्व केंद्रीय मंत्री शांता कुमार मुख्य वक्ता के रूप में अपने विचार रख रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार से जब पूछा गया कि सोलन अस्पताल में हमेशा चिकित्सकों की कमी रहती है तो उन्होंने कहा कि कुछ एक चिकित्सकों को यहां ज्वाइन करवा दिया गया है तथा कई डाक्टरों के इस अस्पताल में स्थानांतरण आदेश जारी कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार के निर्धारित मापदंडों के अनुसार ही सामुदायिक चिकित्सा केंद्रों, नागरिक व क्षेत्री अस्पतालों में डाक्टरों की नियुक्तियां की जाती हैं तथा यहां सौ डाक्टर नियुक्त नहीं किए जा सकते। उन्होंने कहा कि प्रदेश में छह लाख 35 हजार परिवार हैं तथा हिमकेयर स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत 26 करोड़ रुपए अभी तक वितरित किए जा चुके हैं।

बुजुर्ग को इलाज न मिलने पर लिया कड़ा संज्ञान

आयुर्वेद अस्पताल सोलन में एक 75 वर्षीय बुजुर्ग को इलाज न मिलने के मामले का स्वास्थ्य मंत्री ने कड़ा संज्ञान लिया है। उन्होंने बुजुर्ग को निःशुल्क चिकित्सा न दिए जाने के मामले में जांच करवाने को कहा है।