Tuesday, September 17, 2019 03:55 PM

बारिश से छुटकारा अभी कहां

31 तक झमाझम के आसार; अगस्त के आखिर में सक्रिय रहेगा मानसून, अधिकतम तापमान में फिर गिरावट

शिमला -हिमाचल में 31 अगस्त तक मौसम खराब रहेगा। मौसम विभाग ने राज्य के अधिकांश क्षेत्रों में अगस्त के अंतिम सप्ताह के दौरान मानसून सक्रिय होने की संभावना जताई है। इस दौरान राज्य के कुछ स्थानों पर बारिश होगी, जबकि माह के आखिरी दिनों के दौरान कई जगह बारिश होेने की संभावना जताई जा रही है। राज्य के अधिकतर क्षेत्रों में रविवार को मौसम खराब बना रहा। अधिकांश क्षेत्रों में दिनभर धुंध घिरी रही। इस दौरान राज्य के मध्यम ऊंचाई वाले क्षेत्रों में कुछ जगह बारिश भी रिकॉॅर्ड की गई है। बारिश होने से अधिकतम तापमान में फिर गिरावट आई है। अधिकतम तापमान में एक से छह डिग्री की गिरावट रिकॉर्ड की गई है। शिमला के अधिकतम पारे में सबसे ज्यादा छह डिग्री की गिरावट आई है। इसके अलावा सुंदरनगर, भुंतर, कांगड़ा, बिलासपुर व हमीरपुर के तापमान में तीन डिग्री और केलांग के तापमान में दो डिग्री की गिरावट रिकॉॅर्ड की गई है। शनिवार शाम को राज्य के कुछ स्थानों पर बारिश रिकॉर्ड की गई है। नगरोटा सूरियां में सबसे ज्यादा 57 मिलीमीटर बारिश हुई है। इसके अलावा अंब में 53, बलदवाड़ा में 46 अैर रेणुका में 33 मिलीमीटर बारिश हुई है। बारिश होने से न्यूनतम तापमान में भी गिरावट आंकी गई है। राज्य में अधिकतम व न्यूनतम तापमान सामान्य डिग्री तक पहुंच गया है। मौसम विभाग के निदेशक डा. मनमोहन सिंह ने खबर की पुष्टि की है।

अभी 333 सड़कें ठप

शिमला। प्रदेश में बारिश के कारण अभी भी 333 सड़कें अवरुद्ध हैं। मंडी ज़ोन में सबसे अधिक सड़कें यातायात के लिए अवरुद्ध पड़ी हैं। मंडी में 228 सड़कें बंद पड़ी हैं। इसके अलावा शिमला ज़ोन में 70, कांगड़ा में 12 और हमीरपुर में 23 सड़कें भू-स्खलन से बंद हैं। लोक निर्माण विभाग का दावा है कि अवरुद्ध सड़कें बहाल करने के लिए युद्धस्तर पर कार्य किया जा रहा है। जल्द ही अवरुद्ध मार्ग बहाल कर दिया जाएगा। हिमाचल प्रदेश में बारिश से नुकसान का 867 करोड़ 97 लाख पहुंच गया है। पीडब्ल्यूडी को सबसे ज्यादा 490 करोड 70 लाख और आईपीएच विभाग को 283 करोड 86 लाख की चपत लग चुकी है।