Saturday, May 30, 2020 09:01 AM

बारिश से मक्की की फसल तबाह

बल्ह-सन्हाल-सकौन-बल्ह रेहड़े-टांडा में फसल को पहुंचा नुकसान

थानाकलां -कुटलैहड़ क्षेत्र के तहत कई स्थानों पर भारी बरसात के कहर से फसल बच नहीं पाई। मक्की की फसल, पिछले दो दिन पहले पड़ी बारिश और आंधी तूफान ने मक्की के खेतों को पूरी तरह बर्बाद कर दिया है। सकौन गांव के प्रीतम ने बताया कि बरसात के शुरू में ही बड़ी मुश्किलें झेलनी पड़ी, जमीन दरकना शुरू हो गई। इसके चलते मकान को भी खतरा हो गया। दूसरी और फसल भी खराब होना शुरू हो गई। रात के समय बारिश आंधी तूफान ने अपना कहर ढाया। मक्की की पूरी फसल खेत में ढह कर टूट गई है, जिसके चलते चिंता सताना शुरू हो गई है। किसानों के चेहरों पर मायूसी के सिवा कुछ नहीं जिन खेतों में पानी भरा पड़ा है, वहां मक्की की ग्रोथ नहीं हुई और पीली हो गई है। बल्ह, सन्हाल, सकौन, बल्ह रेहड़े, टांडा, परनोलियां सन्हाल, आदि स्थानों पर अभी भी बारिश से मक्की की फसल बिछ गई है। विजय कुमार, सुभाष चंद, देव राज, जनक राज, सीता देवी, दौलत राम, कर्म चंद, महिंद्र सिंह, पुरुषोत्तम चंद, काकू राम, ज्ञान चंद, प्यारे लाल, बलबीर सिंह, राकेश कुमार, सुभद्रा देवी, राज कुमार, बलबिंद्र कुमार सहित अन्य किसानों ने सरकार, विभाग से मांग की है कि उन्हें नुकसान का मुआवजा दिया जाए।