Monday, April 06, 2020 06:11 PM

बालीवुड में हिमाचल की बेटी का दम

कंगना रणौत के दीवाने जहां देशभर के युवा हैं, वहीं आज कंगना रणौत को हिमाचल के युवा बेहद पसंद करते हैं। मिनी बालीवुड कुल्लू-मनाली की अगर बात करें तो आज कंगना के दीवाने कुल्लू-मनाली में भी हैं, जो कंगना की एक्टिंग के मुरीद हैं, लेकिन कंगना के जो तेवर हैं वे कुल्लू-मनाली के कुछ युवाओं को पसंद नहीं आते हैं, जब कंगना बेवाक बोल बैठती हैं। क्योंकि उन्हें लगता है कि कंगना रणौत को गुस्सा जल्दी आता है। अगर कंगना अपने तेवर में बदलाव कर ले तो पूरी दुनिया उनकी एक्टिंग के साथ उनके तेवरों की भी दीवानी हो जाएगी। आइए जानते हैं कि क्या कहते हैं कुल्लू-मनाली के युवा कंगना रणौत को लेकर

                                                सुशांत शर्मा, कुल्लू

रियल लाइफ में नहीं दिखती फिल्मों वाली कंगना

कुल्लू की खुशबू भारद्वाज का कहना है कि कंगना रणौत को गुस्सा जल्दी आता है। कंगना की एक्टिंग का कोई मुकालबा नहीं है। हमें गर्व है कि वह हिमाचल की बेटी है, मनाली में कंगना का दूसरा घर है, लेकिन कंगना मनाली आने पर किसी से खास मिलना यहां पसंद नहीं करती है। कंगना  का जो अंदाज फिल्म में दिखता है, वह रियल लाइफ में उससे जरूर भिन्न है।

बेवाक हैं कंगना रणौत

अनुपमा नेगी का कहना है कि कंगना रणौत बेवाक हैं, जो भी किसी को कहना है कि वह सामने से कह देती हैं। बेवाक कहने वाले दिल से बेहद अच्छे होते हैं। मुझे कंगना बेहद पसंद हैं। वह जैसी भी हों उनकी एक्टिंग से लेकर उनके तेवर सब अच्छे हैं। क्योंकि जो तेवर कंगना के हैं मैं उनकी कायल हूं।

कंगना जैसा कोई नहीं

प्रेरणा ठाकुर का कहना है कि कंगना रणौत जैसी कोई भी हीरोइन नहीं है। कंगना के तेवर की अगर बात करें तो उनका हर अंदाज मुझे काफी भाता है। वह जैसी भी हैं बेहद अच्छी हैं। क्योंकि एक कलाकार की एक्टिंग को हम पसंद करते हैं। वह कैसी हैं या कैसी नहीं हैं। इस और खास ध्यान नहीं किया।

कंगना के तेवर की दीवानी हूं

कुल्लू की देवांशी हांडा का कहना है कि कंगना बेवाक हैं, जो कहना है वह सामने से कह देती हैं, जिस तरह वह एक्टिंग से सभी को अपना दीवाना बना लेती हैं, उसी तरह से उनके तेवर भी युवाओं को दीवाना बना डालते हैं। कंगना बेहद पसंद है, इसलिए उनकी हर अदा पसंद है।

कंगना की हर अदा लाजवाब

आदिति उपाध्याय का कहना है कि कंगना रणौत का तेवर जैसा भी हो, उनकी एक्टिंग के बाद कुछ याद नहीं रहता। कंगना ने अब तक अपना बेस्ट ही बालीवुड में दिया है।  वह जैसी भी हैं, हिमाचल की बेटी हैं। काफी संघर्ष कर उन्होंने बालीवुड में जगह बनाई है। कंगना जैसी भी हैं, वह बेहद पसंद हैं।

कंगना का कोई मुकाबला नहीं

मनाली की हुमा ठाकुर का कहना है कि कंगना रणौत का कोई मुकाबला नहीं है, कंगना का व्यवहार मुझे काफी अच्छा लगता है। कंगना जिस तरह से अपने परिवार व रिश्तेदारों से जुड़ी रहती है। कहीं न कहीं हिमाचली संस्कार उनके अंदर देखने को मिलते हैं। यही नहीं, कंगना हिमाचली संस्कृति को आगे लाने में भी आगे हैं।