Tuesday, May 21, 2019 07:16 AM

बाल विकास विभाग होगा पेपरलैस

ऊना—जिला ऊना का महिला एवं बाल विकास विभाग के सभी कार्य जल्द ही पेपरलैस हो जाएंगे तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता से लेकर जिला कार्यालय तक सभी कार्य ऑनलाइन ही होंगे। इसी के दृष्टिगत ऊना में विभाग से जुड़ी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं पर्यवेक्षकों के लिए सोमवार को तीन दिवसीय विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरुआत हुई। इस प्रशिक्षण कार्यशाला में केंद्रीय महिला एवं बाल विकास विभाग के मास्टर ट्रेनर जिला भर की 92 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं 35 पर्यवेक्षकों को बतौर मास्टर ट्रेनर तैयार किया जाएगा जो अन्य आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को पेपरलैस कार्य को लेकर प्रशिक्षित करेंगी। तीन दिनों तक चलने वाले इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ जिला कार्यक्रम अधिकारी (आईसीडीएस) सतनाम सिंह ने किया। इस मौके पर बोलते हुए सतनाम सिंह ने कहा कि जिला ऊना का महिला एवं बाल विकास विभाग जल्द ही पूरी तरह से पेपरलैस हो जाएगा तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता महिलाओं एवं बच्चोंं से जुड़ी तमाम जानकारी एवं डाटा को स्मार्टफोन के माध्यम से ऑनलाइन उपलब्ध करवांएगी। उन्होंने बताया कि जीपीएस सिस्टम से जुड़े स्मार्टफोन के माध्यम से आंगनबाड़ी कार्यकर्ता तमाम जानकारी को ऑनलाइन फीड करेंगी तथा इस डाटा के माध्यम से गर्भवती एवं धात्री महिलाओं के साथ-साथ आंगनबाड़ी केंद्र में शिक्षा ग्रहण करे रहे बच्चों तथा किशोरियों से संबंधित तमाम जानकारी एक क्लिक पर ऑनलाइन उपलब्ध रहेगी। उन्होंने बताया कि रियल टाइम मॉनिंटरिंग (आरटीएम) के माध्यम से विभाग के अधिकारी एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता गर्भवती एवं धात्री माताओं, नौनीहालों तथा किशोरियों के स्वास्थ्य पर नजर रखेंगी। उन्होंने बताया कि पोषण अभियान के तहत बच्चों के कम बजन, ठीगनापन, 15-45 वर्ष की किशोरियों एवं महिलाओं में खून की कमी इत्यादि को लेकर भी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता न केवल घर-घर जाकर जानकारी को स्मार्टफोन के माध्यम से उच्च अधिकारियों के साथ साझा करेंगी बल्कि महिलाओं, किशोरियों एवं बच्चांें के पोषण पर भी कड़ी नजर रखी जाएगी। इससे पहले सतनाम सिंह ने महिला एवं बाल विकास के मास्टर ट्रेनर आशीष, पवन, विकास, कल्याण सिंह राठौर, श्रीराम पाठक, आशीष तथा अजीत राणा का तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला में शामिल होने पर स्वागत किया। इस मौके पर सीडीपीओ ऊना हरीश मिश्रा के अतिरिक्त विभाग के आंगनबाड़ी पर्यवेक्षकों सहित जिला भर से आई आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मौजूद रहीं।