Friday, September 20, 2019 12:13 AM

बावड़ी के साथ हो रहा निर्माण कार्य बंद हो

नादौन -शहर के वार्ड एक में स्थित ऐतिहासिक बावडि़यों के आगे ब्यास के तट पर किए जा रहे निर्माण कार्य को लेकर शहरवासियों में भारी रोष है। लोगों द्वारा इसकी शिकायत एसडीएम नादौन से करने के बाद सोमवार को नायब तहसीलदार मनोहर लाल शर्मा ने अन्य विभागीय अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचकर उपस्थित लोगों के बयान दर्ज किए। इस दौरान काफी संख्या में शहरवासी उपस्थित रहे। उन्होंने इस निर्माण कार्य को तुरंत बंद करने की मंाग करते हुए पहले की स्थिति बहाल करने की मांग की है। शहरवासियों व्यापार मंडल अध्यक्ष त्रिभुवन सिंह, पार्षद सुनीता देवी, श्याम सोनी व योगराज, राकेश जैन, रविंदर पुरी, तरसेम कपिल, सुदेश नैय्यर, राज कुमार शर्मा, कमल, संतोष संधू, बलदेव चौधरी, राम कुमार शर्मा, संजय सोनी, सुशील कमल, अजय शर्मा, रमेश चंद, बाबू राम, पुष्पिंदर, अनिल सौंधी, हंस राज, मिलाप चंद, बलदेव जंबाल, दिनेश मेहरा आदि ने बताया कि इन बावडि़यों पर आईपीएच विभाग की वर्षों पुरानी पेयजल योजना स्थित है जिससे शहर भर को पेयजल आपूर्ति की जाती है। उन्होंने बताया कि योजना के निकट ही करवाए जा रहे निर्माण कार्य के दौरान इन बावडि़यों से निकलने वाले अतिरिक्त पानी की निकासी को ही बंद कर दिया गया है। इतना ही नहीं बावडि़यों के साथ ही जहां से पानी की निकासी होती है वहां वर्षों से महिलाओं को कपड़े धोने के लिए विशेष स्थान बनाया गया है परंतु इस निर्माण कार्य के दौरान इस स्थल को भी बंद कर दिया गया है। जिससे इसके ऐतिहासिक स्वरूप के साथ भी छेड़छाड़ की गई है। उन्होंने बताया कि यह भूमि टीका बर्तदारान है। शहरवासियों ने इस निर्माण कार्य को रूकवाने तथा पानी की निकासी को बहाल करवाने की मांग की है। इस संबंध में एसडीएम डीआर धीमान ने बताया कि मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि संबंधित अधिकारियों को मौका पर भेज कर उनसे रिपोर्ट मांगी गई है। उन्होंने बताया कि आईपीएच विभाग को भी मौके पर जा कर उचित कदम उठाने के निर्देश दिए गए हैं। नायब तहसीलदार मनोहर लाल शर्मा ने बताया कि मौका का मुआयना करने के बाद लोगों के बयान ले लिए गए हैं तथा शीघ्र ही रिपोर्ट एसडीएम नादौन को सौंप दी जाएगी।