Friday, October 18, 2019 11:54 AM

बिंद्रावन जंगल में अब सफाई पर ‘तकरार’

 कूड़ा-कर्कट को लेकर चर्चा में आई पंचायत ने करवाई सफाई

पालमपुर -जंगल क्षेत्र में पड़ी गंदगी को लेकर चर्चा में आई बिंद्रावन पंचायत द्वारा करवाई गई साफ-सफाई पर तकरार शुरू हो गई है। इस क्षेत्र में जंगल में पड़ी गंदगी और उससे फैल रही बदबू का संज्ञान लेते हुए इनसाफ  संस्था ने पूर्व विधायक प्रवीण कुमार की अगवाई में प्रशासन व प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड तक इसकी जानकारी पहुंचा कर कार्रवाई का आग्रह किया था। इसके चलते बीते दिनों पर्यावरण व प्रशासन से संबंधित अधिकारियों ने संबंधित क्षेत्र का दौरा किया था। मामला चर्चा में आने के बाद पंचायत की ओर से प्रशासन को शपथ पत्र सौंपा गया था और उसके बाद पूरे क्षेत्र में साफ-सफाई शुरू करवाई गई थी। पंचायत प्रधान ने अपनी पंचायत के साथ लगते क्षेत्रों व कूहल की भी साफ-सफाई की योजना बनाने की बात कही है। उधर, इनसाफ  संस्था ने शपथ पत्र जैसे कदमों को ड्रामा करार दिया है। संस्था के अध्यक्ष प्रवीण कुमार के अनुसार बडूंह व कल्यारकड़ के लोग बीते तीन वर्षों से गंदगी के कारण पनप रही बदबू से भारी परेशानी उठा रहे हैं। गंदगी फैलाने वालों ने तो यहां खूबसूरत प्रकृति के नजारे को ही तहस-नहस करके रख दिया था। संस्था के हस्तक्षेप पर प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड ने कड़ा संज्ञान लिया उस एवज में पंचायत द्वारा स्थानीय प्रशासन को शपथ पत्र देकर इस नैतिक जिम्मेदारी से नहीं बचा जा सकता। अधिकारियों ने स्वयं मौके पर जाकर गंदगी देखी है । संस्था के प्रतिनिधियों ने चेताया कि अगर इस संगीन मामले को दबाने का कहीं से भी प्रयास हुआ, तो ऐसे करने वालों को संस्था बेनकाब करेगी।

चेतावनी बोर्ड लगवाया

बिंद्रावन पंचायत में कूड़ा-कचरा न फेंकने को लेकर बोर्ड भी स्थापित करवाए गए हैं। इनमें कूड़ा-कचरा फेंकते हुए पकड़े जाने वालों को जुर्माने के प्रावधान का जिक्र भी किया गया है। वहीं, पंचायत ने अब ऐसी व्यवस्था की है कि जंगल क्षेत्र की ओर वाहन पहुंच ही न सकें।