Monday, June 01, 2020 01:46 AM

बिजली बिल का अतिरिक्त भुगतान मुश्किल

मणिकर्ण वैली होटल एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को लिखी पाती

कुल्लू-देश-दुनिया में कोरोना कोविड-19 वैश्विक महामारी ने जिला कुल्लू के होटल कारोबारियों को बैकफुट पर ला दिया है। होटल मालिकों को होटलों का कर्ज चुकाने के साथ-साथ बिजली बिल, पानी बिल भरने के साथ-साथ अन्य कई दिक्कतें आई हैं। ऐसे में मणिकर्ण वैली होटल एसोसिएशन ने होटल मालिकों, संचालकों की समस्याओं का समाधान करने के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को एक पाती भेजी है। होटल एसोसिएशन मणिकर्ण वैली के अध्यक्ष किशन ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री को भेजे गए पत्र में छह समस्याओं के समाधान करने की मांग की गई है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन की वजह से होटल, गेस्ट हाउस, होम स्टे, रेस्टोरेंट, कैंपिंग बंद हो गए हैं, जिससे होटल कारोबारियों को कई समस्याएं आई हैं। उन्होंने कहा कि बिजली बोर्ड एवरेज बिल चार्ज कर रहा है, जिसकी बजह से अतिरिक्त बिल का भुगतान करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार से यह मांग की है कि होटल इंडस्ट्री सुचारू रूप से चलना शुरू न हो तब तक एवरेज बिल तथा अन्य चार्जेज न लगाए जाएं और बिजली बिल माफ किए जाएं। क्योंकि इस समय आय के कोई साधन नहीं है। पानी का बिल भी माफ होना चाहिए।  वहीं काफी सारे होटल मालिकों ने बैंकों से लाखों रुपए का कर्ज लिया है। वे लोग इस समय कर्ज मासिक किस्त नहीं दे पा रहे हैं।