बिजली संशोधन बिल के खिलाफ हल्ला, स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड इंप्लाइज यूनियन ने किया प्रदर्शन

बिलासपुर, शिमला – हिमाचल स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड इंप्लाइज यूनियन ने ‘बिजली कर्मी व अभियंता की राष्ट्रीय समन्वय समिति’ के आह्वान पर बिजली कानून संशोधन बिल-2020 के खिलाफ काले बिल्ले लगाकर व प्रदर्शन कर विरोध प्रकट किया। इस बिल के विरोध में बोर्ड कर्मचारियों व अभियंताओं ने बिलासपुर और बोर्ड मुख्यालय शिमला में प्रदर्शन किया। वहीं बिलासपुर में स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड इंप्लाइज यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह खरवाड़ा ने कहा कि केंद्रीय ऊर्जा मंत्री अब कोविड-19 के बीच बिजली संशोधन बिल-2020 रूप में पारित करने की जल्दी में हैं। उन्होंने कहा कि इस संशोधन के कानून बनने से जहां बिजली बोर्ड कंपनी के वितरण कार्यों में छोटी-छोटी कंपनियों व फै्रंचाइजी के आने से इसके निजीकरण का रास्ता प्रशस्त हो जाएगा, वहीं बिजली मापने के लिए जगह-जगह इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों व बिजली के फिडरों के अलग-अलग करने से बिजली उपभोक्ताओं पर अतिरिक्त बोझ पड़ेगा। क्रॉस सबसिडी के खत्म हो जाने से जहां घरेलू उपभोक्ताओं की बिजली दरों में कई गुना बढ़ोतरी होगी। वहीं बोर्ड मुख्यालय शिमला में स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड इंप्लाइज यूनियन ने बिजली कानून संशोधन बिल के खिलाफ भोजनावकाश के दौरान प्रदर्शन किया और इस बिल को प्रदेश के उपभोक्तओं व कर्मचारी विरोधी बताया। इस अवसर पर यूनियन के पदाधिकारियों के अतिरिक्त पावर इंजीनियर एसोसिएशन के महामंत्री तुषार गुप्ता व आदि पदाधिकारी उपस्थित थे। स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड इंप्लाइज यूनियन के महामंत्री हीरा लाल वर्मा ने कहा कि यह बिल केंद्र सरकार द्वारा बिजली बोर्डों को निजीकरण की मंशा से लाया जा रहा है। इसे लागू होने से बिजली वितरण का कार्य निजी हाथों में चला जाएगा।

The post बिजली संशोधन बिल के खिलाफ हल्ला, स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड इंप्लाइज यूनियन ने किया प्रदर्शन appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.

Related Stories: