Monday, August 26, 2019 10:36 AM

बिझड़ी बाजार पहुंचे एसई-एक्सईएन

‘दिव्य हिमाचल’ में खबर छपने के बाद पेवर टाइल्स के काम का पीडब्ल्यूडी अधिकारियों ने किया निरीक्षण

बिझड़ी -बाजार की सड़क पर पेवर टाइल्स लगाने मंे बरती गई अनियमितता का खुलासा होने के बाद प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए हैं। आनन-फानन मंे विभागीय अधिकारियांे ने कार्य स्थल का निरीक्षण कर स्थिति का जायजा लिया। निरीक्षण मंे एसई, एक्सईएन, एसडीओ, जेई व अन्य कर्मचारी मौजूद रहे। व्यापार मंडल सहित स्थानीय लोगांे ने पेवर टाइल लगाने मंे बरती गई अनियमितता से भी मौका स्थल पर पहुंच कर अधिकारियांे को अवगत करवाया है। नियमांे को दरकिनार कर किया गया यह कार्य किसी को भी रास नहीं आ रहा। ‘दिव्य हिमाचल’ ने इस मुद्दे को शनिवार के विशेषांक में ‘बिझड़ी बाजार मंे टाइल्स बिछाने पर बखेड़ा’ शीर्षक से प्रमुखता से प्रकाशित किया है। खबर छपने के बाद विभाग हरकत मंे आया और मौका स्थल का निरीक्षण किया है। बताते चलें कि बिझड़ी बाजार के कुल 800 मीटर पेवर ब्लॉक्स कार्य के लिए लाखों रुपए खर्च किए जा रहे हैं। कार्य के दौरान एक महीने के लिए बाजार से वाहनों की आवाजाही बिलकुल बंद है तथा विभाग ने 800 मीटर कार्य को तीन ठेकेदारों को आवार्ड कर रखा है, लेकिन कार्य करने के तरीके को देखते हुए स्थानीय लोग व व्यापारी विभाग के विरोध पर उतर आए हैं। लोगों का कहना है कि विभाग द्वारा टाइल लगाने से पहले कंकरीट नहीं डाली जा रही, जिससे भारी वाहन गुजरते ही सड़क पर लगी टाइलें धंस सकती हैं। इसके अलावा सड़क किनारे नालियों का भी सही ढंग से निर्माण नहीं किया जा रहा, जिससे बरसाती पानी दुकानों में घुसने का खतरा पैदा हो गया है। लोगों का कहना है कि विभागीय अधिकारी शिकायतों के बावजूद कार्य को जारी रखा तथा लगभग 150 मीटर सड़क पर मिट्टी के ऊपर रेत बिछाकर टाइलें लगा दी गईं। उनका कहना है कि भोटा बाजार की टाइलें उखड़ने के बावजूद विभाग की मनमानी जारी रही है। अब अधिकारियों द्वारा बाकी के कार्य पर कंकरीट बेस बनाने की बात कही जा रही है, लेकिन जो टाइलें कच्ची मिट्टी व रेत के ऊपर बिछाई गई हैं उनका जिम्मेदार कौन होगा? व्यापार मंडल प्रधान बब्बी शर्मा ने बताया कि विभागीय अधिकारियों ने अब आगामी बचे कार्य के दौरान कंकरीट बेस बनाने की बात कही है। बाजार के बीच बंद पड़ी पुलिया को खोला जाएगा, जिससे बरसाती पानी की उचित निकासी हो सकेगी।