Sunday, November 17, 2019 04:18 PM

बिना निशानदेही मकान दुकानों को नहीं देंगे तोड़ने

पांवटा साहिब -पांवटा साहिब में बीच नगर के प्रस्तावित एनएच मामले में गठित संयुक्त संघर्ष समिति ने साफ तौर पर कहा है कि बिना निशानदेही लोगों के मकान दुकान धमका कर नहीं तोड़ने दिए जाएंगे। यदि ऐसा होता है तो समिति संघर्ष करेगी। पांवटा साहिब मंे जारी प्रेस बयान मंे समिति के अध्यक्ष अनिंद्र सिंह नौटी ने कहा कि 16 सितंबर, 2019 को प्रशासन के साथ एक संयुक्त बैठक हुई थी, जिसमें स्थानीय विधायक सहित राष्ट्रीय राजमार्ग व राजस्व विभाग के अधिकारियों व पांवटा साहिब से संबंधित अनेक सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधि व एनएच-72 के आसपास के दुकानदार, भवन मालिक तथा व्यापार मंडल शामिल थे। बैठक में लिए गए निर्णय के आधार पर बाद में राजस्व विभाग ने अनेक जगह पर अनुमान के लिए निशानदेही की थी और नेशनल हाई-वे विभाग द्वारा लगाए गए पुराने निशान बहुत जगह पर गलत पाए गए थे। इसके बाद भी यह जरूरी हो गया था कि सभी भवनों की दोबारा निशानदेही करवाई जाए, जिसमें राजस्व विभाग खास तौर पर शामिल रहे। इस विषय में राष्ट्रीय राजमार्ग विभाग ने भी राजस्व विभाग को पत्र लिखा था और संयुक्त संघर्ष समिति ने भी मुख्यमंत्री के माध्यम से 250 भवन मालिकों के संयुक्त हस्ताक्षरित प्रस्ताव के साथ निशानदेही की आवेदन किया है जो राजस्व विभाग व तहसीलदार को भेज दिया गया, ताकि उचित कार्रवाई हो सके। जितनी भूमि का राष्ट्रीय राजमार्ग विभाग मालिक है उतनी भूमि से किसी को इनकार नहीं है, परंतु बिना निशानदेही लोगों के मकान दुकान धमका कर नहीं तोड़े जाने चाहिए।