Saturday, August 08, 2020 05:18 PM

बिलासपुर में नए कायदे से मरीजों का इलाज

अस्पताल में किया जा रहा गाइडलाइन का पालन, मेन गेट पर बनाई जा रही पर्ची

बिलासपुर – कोरोना वायरस को रोकने के लिए सरकार की गाइड लाइंस का पालन करते हुए जिला अस्पताल बिलासपुर में अब नए कायदे से रोगियों की जांच की जा रही है। परिसर के भीतर व बाहर किसी प्रकार की भीड़ न हो इसके लिए बिलासपुर अस्पताल प्रशासन द्वारा पुख्ता एवं बेहतरीन इंतजाम किए हैं। ओपीडी भवन में शिशु रोग, सर्जन, एमडी, गायनी व आथर्ों विभागों में सर्वाधिक भीड़़ होती है। जब हालात सामान्य थे, तो इन विभागों के कमरों के बाहर अप्रत्याशित भीड़ रहती थी, लेकिन अब जबकि कोरोना काल चला है और लोगों को इससे बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग जैसे महत्त्वपूर्ण कदम उठाने की नितांत आवयश्यकता है, तो अस्पताल प्रशासन ने रोगियों की जांच के लिए नया खाका तैयार किया है।  ओपीडी के मुख्य द्वार पर एडमिट कार्ड यानी पर्ची बनाई जा रही है, जबकि वहीं से विभाग को मेंशन किया जा रहा है। जब एक विभाग की कम से कम पांच पर्चियां बन जाती हैं, तो उन्हें उक्त विभाग में भेजा जाता है, जहां पर वे स्वयं को दिखाना चाहते हैं। यही नहीं ड्यूटी पर तैनात गार्ड भी इस कार्य में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। हर विभाग में जब पांच मरीज और उनके अन्य लोग जाते हैं तो कमरे के बाहर भी गार्ड उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग के साथ बिठाते हैं और आवाज देकर भीतर बुलाते हैं। इससे पूर्व डिजिटल कॉलिंग होती थी। इस नए सिस्टम से जहां ओपीडी भवन में किसी प्रकार की भीड़ नहीं हो रही है, वहीं लोगों को अपनी बारी के लिए ज्यादा इंतजार भी नहीं करना पड़ रहा है। जिला अस्पताल प्रशासन द्वारा किए गए इस प्रबंध से जहां चिकित्सकों के पास लोग आराम से आकर स्वयं के स्वास्थ्य की जांच करवा रहे हैं, वहीं लोगों को भी बेवजह होने वाली धक्का मुक्की से निजात मिली है। वहीं दूसरी ओर वार्डों में भी बिना कार्य के कोई प्रवेश नहीं कर सकता है।

The post बिलासपुर में नए कायदे से मरीजों का इलाज appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.