Wednesday, August 05, 2020 09:32 PM

बीआरओ के मजदूरों की हड़ताल खत्म

मंत्री रामलाल मार्कंडेय के आश्वासन के बाद लिया फैसला, एडीएम काजा ने मजदूरों को पिलाया जूस

केलांग – ग्रांफू-सुमदो सड़क को बीआरओ से लेकर पीडब्ल्यूडी के हवाले करने के विरोध में काजा में भूख हड़ताल पर बैठे बीआरओ के मजदूरों ने अपना आंदोलन वापस ले लिया है। बुधवार को एडीएम ज्ञान सागर नेगी ने मजदूरों को जूस पिलाकर भूख हड़ताल समाप्त करवाई। ग्रांफू-सुमदो सड़क को लेकर सरकार द्वारा जारी की गई नई अधिसचूना के अनुसार जहां इस सड़क को पीडब्ल्यूडी को देने का फैसला लिया गया है, वहीं इसके विरोध में बीआरओ के मजदूरों ने छह जून से काजा में भूख हड़ताल शुरू कर थी। इस दौरान बीआरओ की लेबर कमेटी के सदस्यों ने सरकार के इस फैसले का विरोध करते हुए कहा था कि पीडब्ल्यूडी के पास सड़क के चले जाने के बाद जहां उनका रोजगार छिन जाएगा, वहीं उन्हें रोजी-रोटी का भी संकट पैदा हो जाएगा। ऐसे में हाल ही में कृषि मंत्री डा. रामलाल मार्कंडेय ने मजदूरों के साथ बैठक की और उन्हें यह आश्वासन दिया कि पीडब्ल्यूडी के पास सड़क के चले जाने के बाद भी उनका रोजगार नहीं छिना जाएगा। एडीएम ज्ञान सागर नेगी ने बताया कि कृषि मंत्री के आश्वासन के बाद हड़ताल पर बैठे मजदूरों ने हड़ताल समाप्त करने का फैसला लिया है। मजदूर यूनियन के अध्यक्ष प्रीतम और नोरबू ने कहा कि छह जून से क्रमिक हड़ताल शुरू कर दी थी। मजदूरों के अनुसार केंद्र सरकार के इस फैसले से उनके रोजगार छीनने की तलवार लटक हुई थी। इसी वजह से मजदूर यूनियन ने क्रमिक आंदोलन कर रहे थे। कृषि मंत्री ने हमें आश्वासन दिया है कि उन्हें किसी तरह से बेरोजगार होने नहीं दिया जाएगा।

The post बीआरओ के मजदूरों की हड़ताल खत्म appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.